कन्हैया की हत्या के बाद हरकत में पुलिस, जहरीला मौलवी 28 दिन बाद गिरफ्तार

Police in action after Kanhaiya's murder, poisonous cleric arrested after 28 days
Share

बूंदी  (एजेंसी)। उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट की वजह से कन्हैयालाल की हत्या के बाद राजस्थान पुलिस हरकत में आ गई है। पुलिस की मौजूदगी में जहर उगलने वाले मौलाना मुफ्ती नदीम अख्तर को 28 दिन बाद गिरफ्तार किया गया है। आरोपी मौलवी ने नूपुर शर्मा की ओर से पैगंबर पर की गई टिप्पणी के बाद बूंदी में आयोजित विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण दिया था।  बूंदी जिला कलेक्ट्री के बाहर भडकाऊ भाषण देकर सामाजिक सौहार्द बिगाडऩे की कोशिश करने वाले मौलाना नदीम अख्तर के खिलाफ हिंदू संगठनों ने विरोध दर्ज करवाते हुए बूंदी कोतवाली थाने में शिकायत दी थी। जिस पर पुलिस ने सांप्रदायिक माहौल बिगाडऩे, भड़काऊ भाषण देने सहित कई धाराओं में मामला दर्ज किया था। लेकिन प्रकरण दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने आरोपी मौलाना को गिरफ्तार नहीं किया था। जिससे हिंदू संगठनों में काफी रोष भी देखने को मिला था।

उदयपुर हत्याकांड के बाद मौलाना की गिरफ्तारी की मांग हुई थी तेज : उदयपुर में कन्हैया लाल की बेरहमी से हत्या करने के बाद से ही राजस्थान में कई जगहों पर हिंदू संगठनों की ओर से प्रदर्शन और आक्रोश देखने को मिला। ऐसे में एक बार फिर बूंदी जिले के मौलाना द्वारा भड़काऊ भाषण देने का मामला भी उजागर हो गया और हिंदू संगठनों ने मौलाना को गिरफ्तार करने की मांग उठाना शुरू कर दी।

जिला कलेक्ट्रेट पर दिया था भड़काऊ भाषण: बता दे कि 3 जून को बूंदी जिला कलेक्ट्रेट पर नूपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर काफी संख्या में मुस्लिम समाज के लोगों ने जिला कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया था।

इस दौरान प्रदर्शन में शामिल मौलाना मुफ्ती नदीम अख्तर ने अपने भाषण के दौरान भड़काऊ बाते बोलते हुए आंखे निकालने और सिर काटने की बात कही थी।  पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था, लेकिन अब तक वह पुलिस की गिरफ्त से बचा हुआ था।


Share