‘आपका योगदान नहीं भूलेगा हिंदुस्तान’- सीडीएस रावत के निधन पर प्रधानमंत्री का भावुक ट्वीट

Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत नहीं रहे। बुधवार को तमिलनाडु के कुन्नूर में भारतीय सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया था। एमआई-17वी5 हेलिकॉप्टर से वे सफर कर रहे थे। इस हेलिकॉप्टर में जनरल बिपिन रावत समेत कई अधिकारी मौजूद थे। इसी हादसे में बिपिन रावत का निधन हो गया। इसमें बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत भी मौजूद थीं। उनके निधन पर देश भर से शोक संदेश आ रहे हैं। प्र.म. नरेंद्र मोदी ने भी उनके निधन पर शोक जताया है। हादसे की खबर के बाद पूरे भारत में शोक की लहर है। भारत ने एक ऐसी शख्सियत को खो दिया, जो भारत की सुरक्षा में एक बड़ा योगदान रखता था। बिपिन रावत देश के पहले ऐसे व्यक्ति थे जिन्हें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद पर नियुक्त किया गया था।

उत्कृष्ट सैनिक थे जनरल रावत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनरल बिपिन रावत को एक एक उत्कृष्ट सैनिक बताते हुए कहा कि वह एक सच्चे देशभक्त थे। उन्होंने हमारे सशस्त्र बलों और सुरक्षा तंत्र के आधुनिकीकरण में बहुत योगदान दिया। सामरिक मामलों पर उनकी अंतर्दृष्टि और दृष्टिकोण असाधारण थे। उनके निधन से मुझे गहरा दुख पहुंचा है। प्र.म. मोदी ने अपने शोक संदेश में कहा कि भारत के पहले सीडीएस के रूप में, जनरल रावत ने रक्षा सुधारों सहित हमारे सशस्त्र बलों से संबंधित विविध पहलुओं पर काम किया। वह अपने साथ सेना में सेवा करने का एक समृद्ध अनुभव लेकर आए। भारत उनकी असाधारण सेवा को कभी नहीं भूलेगा।

राष्ट्रपति बोले- देश ने अपने सबसे बहादुर सपूतों में से एक को खो दिया

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा- जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका जी के असामयिक निधन से स्तब्ध और व्यथित हूं। देश ने अपने सबसे बहादुर सपूतों में से एक को खो दिया है। मातृभूमि के लिए उनकी चार दशकों की निस्वार्थ सेवा असाधारण वीरता और वीरता से चिह्नित थी। उसके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं।

असाधारण साहस से देश की सेवा की

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी जनरल रावत के निधन पर गहरा शोक जताया है। ट्वीट कर राजनाथ सिंह ने कहा, उनका असामयिक निधन हमारे सशस्त्र बलों और देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है। राजनाथ ने कहा कि जनरल रावत ने असाधारण साहस और लगन से देश की सेवा की थी। पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में उन्होंने हमारे सशस्त्र बलों की संयुक्तता की योजना तैयार की थी। इस हादसे में अपनों को खोने वालों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। ग्रुप कैप्टन वरूण सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं, जिनका अभी सैन्य अस्पताल, वेलिंगटन में इलाज चल रहा है।

देश के लिए बहुत दुखद दिन

गृह मंत्री अमित शाह ने जनरल रावत के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए इसे देश के लिए बहुत दुखद दिन करार दिया। ट्वीट कर उन्होंने कहा कि देश के लिए एक बहुत ही दुखद दिन है, क्योंकि हमने अपने सीडीएस जनरल बिपिन रावत जी को एक बहुत ही दुखद दुर्घटना में खो दिया है। वह सबसे बहादुर सैनिकों में से एक थे, जिन्होंने अत्यंत भक्ति के साथ मातृभूमि की सेवा की है। उनके अनुकरणीय योगदान और प्रतिबद्धता को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है। मुझे गहरा दुख हुआ है।


Share