BSF-त्रिपुरा पर प्र.म. मोदी से मिलीं ममता बनर्जी- सोनिया से मुलाकात पर बोलीं- पंजाब चुनाव है, वो व्यस्त हैं

नंदीग्राम में ममता और अधिकारी के बीच छिड़ी जुबानी जंग
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बुधवार को मुलाकात हुई। ये मुलाकात करीब 30 मिनट तक चली। जिसमें ममता बनर्जी ने प्राकृतिक आपदाओं पर मुआवजे और सीमा सुरक्षा बल के प्रदेश में दखल का मुद्दा उठाया । ममता बनर्जी सोमवार को दिल्ली पहुंची थी।

ममता बनर्जी ने कहा अगर बीएसएफ को ज्यादा ताकत मिलेगी, तो इससे राज्य में कानून-व्यवस्था पर असर पड़ेगा। ऐसे में ये ध्यान रखना चाहिए कि लॉ एंड ऑर्डर राज्य का विषय होता है। ममता बनर्जी बोलीं, कूचबिहार में हमने देखा कि कैसे बीएसएफ ने अंधाधुंध फायरिंग की। बीएसएफ से जुड़ी ऐसी ही कई घटनाएं, उत्तर दिनाजपुर और बंगाल के सीमावर्ती इलाकों में हुई हैं। इसलिए मैंने प्र.म. मोदी से निवेदन किया है कि वे इस मुद्दे के बारे में चर्चा करें और ये सुनिश्चित करें कि राज्य के संघीय ढांचे को किसी तरह की कोई परेशानी न हो।

ममता बनर्जी बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने के लिए पहुंची थी। इस दौरान ममता बनर्जी ने कहा उन्हें अब तक 96,605 करोड़ रूपए नहीं मिले हैं, जोकि केंद्र सरकार को प्राकृतिक आपदा के मुआवजे के तौर पर देना था। ममता बनर्जी ने इस दौरान त्रिपुरा में हुई हिंसा का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा मैंने प्र.म. मोदी के सामने त्रिपुरा हिंसा को लेकर भी बात की, ये भी बताया कि कैसे हमारी कार्यकर्ता शायनी घोष को निशाना बनाया गया। उन्हें गिरफ्तार किया गया। ममता बनर्जी ने इस दौरान प्र.म. मोदी को पश्चिम बंगाल में 20 से 21 अप्रैल 2022 में होने वाली बिजनेस मीट के लिए भी आमंत्रित किया है।


Share