अखिलेश-जयंत पर  प्र.म. मोदी का तंज, ‘हर बार लाते हैं नया पार्टनर, फिर मार देते हैं लात…’

PM on Akhilesh-Jayant Modi's taunt, 'Every time they bring a new partner, then they kill...'
Share

कानपुर (एजेंसी)। प्र.म. नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए कानपुर देहात की अकबरपुर विधानसभा में जनसभा को संबोधित किया। प्र.म.ने कहा कि पहले और दूसरे चरण के मतदान ने साफ कर दिया है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा और योगी आदित्यनाथ की सरकार जोर शोर से आ रही है। यहां प्र.म. मोदी  ने बिना नाम लिए अखिलेश यादव और जयंत चौधरी पर हमला किया। उन्होंने कि यह लोग हर चुनाव में नया पार्टनर लाते हैं। जो हर चुनाव में साथी बदलते हैं, वो आपका साथ देंगे क्या। जो चुनाव खत्म होते ही साथी को लात मार देते हैं, उन पर भरोसा कर सकते हैं क्या? प्र.म. मोदी ने कहा कि यह लोग मतदाताओं को गुमराह करते हैं। हार के बाद जिसको साथ लाते है, उसी पर हार का ठिकरा फोड़ देते हैं। कहा, 10 मार्च के बाद दोनों (अखिलेश-जयंत) एक दूसरे से लड़ेंगे। सरकार में लूट करने के लिए अलग-अलग ये इलाका बांट देते थे, भाई-भतीजा और चाचा के इलाके भी लूट के लिए बंटे थे। प्र.म. ने कहा कि ये हर शहर में माफियागंज मोहल्ला बना देंगे। कहा कि उत्तर प्रदेश में माफिया आखिरी सांसे गिन रहे है। लेकिन इन्हें सपा जैसा डॉक्टर मिल गया तो उन्हें फिर से सांसे मिल जाएगी। यूपी के लोगों को इनकी सरकार नहीं लौटने देना है।

’10 मार्च से ही मनाई जाएगी होली’ : हर वर्ग और जाति के लोग बिना बटे और बिना भ्रम में पड़कर यूपी में पहले चरण में भाजपा को बहुत आगे बढ़ा दिया है। माताओं और बहनों ने भाजपा को जीताने का झंडा उठा लिया है। मुस्लिम बहनें चुपचाप, बिना शोर शराबे के मोदी को आशीर्वाद देने के लिए घर से निकल रही हैं। मुस्लिम बहन-बेटियां जानती है कि जो सुख-दुख में  खड़ा रहत है, वही काम आता है। यूपी के लोगों ने 2014, 2017 और 2019 में हराया है। अब 2022 में भी घोर परिवार वादी फिर से हारेंगे। इस बार उत्तर प्रदेश में रंगों वाली होगी, 10 दिन पहले ही मनाई जाएगी। 10 मार्च को जब नतीजे आएंगे, धूम-धाम से होली शुरू हो जाएगी। भाजपा की प्रचंड जीत होगी।

ममता बनर्जी पर किया हमला : प्र.म. मोदी ने कहा कि ममता बनर्जी की गोवा अपनी पार्टी को चुनाव लड़ा रही हैं। इसके नेता के बयान पर चुनाव आयोग और जनता को गौर करना चाहिए। उनका कहना है कि हम गोवा में हिंदू वोटों को बांटना चाहते हैं। इस पर प्र.म. मोदी ने पूछा कि क्या यह भाषा लोकतंत्र की है। गोवा के लोगों के पास मौका है, इस तरह की राजनीति को दफना देने का।


Share