प्र.म. मोदी का अखिलेश पर हमला, बोले- ‘खतरे की घंटी हैं लाल टोपी वाले’

Share

गोरखपुर (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर में एम्स अस्पताल और खाद कारखाने समेत कई परियजनाओं का उद्घाटन कर पूर्वांचल को एक बार फिर से सौगात दी है। 10,000 करोड़ रूपये की परियोजनाओं को प्र.म. नरेंद्र मोदी ने देश को सौंपा। इसके साथ ही उन्होंने गोरखपुर से समाजवादी पार्टी पर भी जमकर निशाना साधा। बिना किसी का नाम लेते हुए प्र.म. नरेंद्र मोदी ने गहरा तंज कसते हुए कहा कि लाल टोपी वाले यूपी के लिए रेड अलर्ट हैं। इन्हें सिर्फ लाल बत्ती के लिए सत्ता चाहिए। प्र.म. ने कहा, आज पूरा यूपी जानता है कि लाल टोपी वालों को सिर्फ लाल बत्ती से मतलब रहा है। इन्हें माफियाओं को छूट देने के लिए, जमीन कब्जाने के लिए और आतंकियों को जेल से छुड़ाने के लिए सरकार चाहिए।

प्र.म.  मोदी ने कहा कि यूपी का गन्ना किसान नहीं भूल सकता है कि इससे पहले की सरकारों ने कैसे भुगतान के लिए रूला दिया था। पहले की सरकारों में हमने वह दिन भी देखे हैं, जब अनाज होते हुए भी गरीबों को नहीं मिलता था। अब हमारी सरकार ने गरीबों को राशन देने के लिए गोदाम खोल दिए हैं। उन्होंने कहा, आज पहले की सरकारों की बेरूखी याद आती है। सब जानते थे कि गोरखपुर का खाद कारखाना कितना जरूरी था, लेकिन पहले की सरकारों ने इसे शुरू कराने में कोई रूचि नहीं दिखाई। एम्स की जरूरत यहां हमेशा से थी, लेकिन 2017 से पहले जो सरकार चला रहे थे, उन्होंने इसके लिए जमीन देने के लिए भी तमाम बहाने बनाए। फिर बड़ी लंबी कवायद के बाद जमीन मिली है।

टाइमिंग पर सवाल उठाने वालों को मिला करारा जवाब : प्रधानमंत्री ने कहा कि यह कार्यक्रम उन लोगों को भी करारा जवाब दे रहा है, जिन्हें टाइमिंग पर सवाल उठाने का बहुत शौक है। ऐसे प्रोजेक्ट्स के पीछे बरसों की मेहनत और दिन रात का परिश्रम होता है। ये लोग नहीं समझेंगे कि कोरोना काल में भी डबल इंजन की सरकार विकास में जुटी रही और काम रूकने नहीं दिया। योगी सरकार की तारीफ करते हुए प्र.म. ने कहा कि लंबे समय से गोरखपुर समेत बड़ा क्षेत्र सिर्फ एक मेडिकल कॉलेज के भरोसे चल रहा था। ऐसे में लोगों को इलाज के लिए बनारस या लखनऊ जाना पड़ता था। योगी सरकार ने इस क्षेत्र में जो काम किया है, उसकी चर्चा अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी हो रही है।

मोदी बोले- इस सदी की शुरूआत में था सिर्फ 1 एम्स, अब बन रहे हैं 16 त्न उन्होंने कहा कि एम्स और आईसीएमआर रिसर्च सेंटर बनने से अब इंसेफलाइटिंस से मुक्त के अभियान को और मजबूती मिलेगी। इसके अलावा दूसरी बीमारियों से बचाव में भी यूपी को बहुत मदद मिलेगी। किसी भी देश को आगे बढऩे के लिए बहुत जरूरी है कि उसकी स्वास्थ्य सेवाएं सुलभ और सस्ती हों। प्र.म.  नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज यूपी 17 करोड़ कोरोना टीकों के पड़ाव पर पहुंच रहा है। देश भर में 16 नए एम्स बन रहे हैं।


Share