पीएम मोदी ने वाजपेयी को जयंती पर याद किया

पीएम मोदी ने वाजपेयी को जयंती पर याद किया
Share

पीएम मोदी ने मदन मोहन मालवीय को भी अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की जिनकी जयंती 25 दिसंबर को पड़ती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर वाजपेयी, मदन मोहन मालवीय को उनकी जयंती पर याद किया।पीएम नरेंद्र मोदी ने आज पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी और कहा कि उनके प्रयासों को भारत हमेशा ही याद रखेगा। उनके दूर-दर्शी नेतृत्व ने देश को विकास की चरम ऊंचाइयों पर पहुँचाया था।

पीएम मोदी ने मदन मोहन मालवीय को भी श्रद्धांजलि अर्पित की जिनकी जयंती भी 25 दिसंबर को पड़ती है। उन्होंने अपना पूरा जीवन समाज सुधार और देश सेवा के लिए समर्पित कर दिया। देश के लिए उनका योगदान पीढ़ियों को प्रेरित करता रहेगा,उन्होंने उनके योगदान को याद करते हुए लिखा।

अटल बिहारी वाजपेयी की आज 96 वीं जयंती

भाजपा सरकार 25 दिसंबर को वाजपेयी की याद में “सुशासन दिवस” के रूप में मनाती है। पीएम मोदी आज अटलजी की जयंती को चिह्नित करने के लिए संसद में ‘अटल बिहारी वाजपेयी: एक स्मारक वॉल्यूम’ पुस्तक का विमोचन करेंगे। यह पुस्तक लोकसभा सचिवालय द्वारा प्रकाशित की गई है जो पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी के जीवन और कार्यों के बारे में है। उनके निजी जीवन की कुछ दुर्लभ तस्वीरों की झलक भी इसमें देखने को मिलेगी।

ऐसे पत्रकार से राजनेता बने थे अटल बिहारी

आज भूतपूर्व प्रधानमंत्री अटलजी  की जयंती है। उनका जन्म ग्वालियर में 25 दिसंबर 1924 को हुआ था। वो तीन बार भारत के प्रधानमंत्री बने थे। वे 1996 में पहली बार भारत के प्रधानमंत्री बने थे, हालांकि उनका कार्यकाल 13 दिनों का ही था। इसके बाद वे 13 महीने के लिए प्रधानमंत्री बने थे और फिर 1999 में वे पीएम बने तो 2004 तक पांच साल का कार्यकाल पूरा किया। अटलजी नेता बनने से पहले एक पत्रकार थे।

एक टीचर के घर में पैदा हुए अटलजी का शुरुआती जीवन आसान नहीं था। उनका जन्म एक निम्न मध्यमवर्ग परिवार में ग्वालियर में हुआ था। उनकी  शिक्षा ग्वालियर में हुई थी। उन्होंने राजनीतिक विज्ञान में स्नातकोत्तर किया और पत्रकारिता में अपना करियर शुरू किया। इसके बाद वाजपेयी राजनीति में आ गए। वे साल 1957 में वह पहली बार सांसद बनकर लोकसभा पहुंचे थे।


Share