पायलट ने गहलोत को दिया जवाब, ‘सीएम के पुत्र वैभव को मेरी वजह से मिला लोकसभा का टिकट’

Pilot replied to Gehlot, 'CM's son Vaibhav got Lok Sabha ticket because of me'
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने दावा किया है कि उन्होंने सीएम गहलोत के बेटे वैभव गहलोत को जोधपुर से लोकसभा चुनाव का कांग्रेस का टिकट दिलाने के लिए सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से बात की थी। इशारों में पायलट ने सीएम गहलोत को जवाब दे दिया है। उल्लेखनीय है कि 10 मार्च को सीएम गहलोत ने दावा किया था कि सचिन पायलट ने केंद्र में मंत्री बनाने के लिए मदद मांगी थी। यूपीए 2 सरकार में मंत्री बनाने की सिफारिश की थी। उन्हीं की सिफारिश पर पायलट मनमोहन सिंह सरकार में मंत्री बने थे। पायलट के बयान को सीएम गहलोत को जवाब देने के तौर पर देखा जा रहा है।

पायलट ने मीडिया से की बात

सचिन पायलट ने बुधवार को जयपुर में महारानी कॉलेज के कार्यक्रम को संबोधित किया। मीडिया से बात करते हुए पायलट ने कहााकि सीएम के बेटे वैभव और मध्यप्रदेश में सीएम कमलनाथ के बेटे को टिकट मिला था। कमलनाथ के बेटे चुनाव जीत गए थे। जबकि वैभव जोधपुर से बड़े अंतर से चुनाव हार गए थे।

पायलट बोले- पार्टी वैभव गहलोत को टिकट देने के पक्ष में नहीं थी

सचिन पायलट ने कहा कि वैभव गहलोत जोधपुर से लोकसभा चुनाव लडऩे की इच्छा जताई तो पार्टी इसके पक्ष में नहीं थी। लेकिन अध्यक्ष के नाते उन्होंने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से बात की थी। हालांकि, कांग्रेस जोधपुर से जीत नहीं पाई। वैभव गहलोत पर लगे धोखाधड़ी के आरोप पर पायलट ने कहा कि अपने ऊपर लगे आरोपों पर वैभव ने खुद जो कहना था कह दिया है। अब इसे राजनीतिक मुद्दा नहीं बनाया जाना चाहिए। राजधानी जयपुर के महारानी कॉलेज के एक सांस्कृतिक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पायलट ने कहा कि वह बहुत कम उम्र में सांसद बन गए। यह उनके लिए खुशी की बात है। पायलट ने कहा कि राजनीति में जो लोग हैं, उनके मन में हमेशा एक असुरक्षा की भावना बनी रहती है कि इसको टिकट मिल गया तो मेरा क्या होगा। वह विधायक या प्रधान बन गया तो मेरी कुर्सी चली जाएगी। पायलट ने कहा कि जब वे पीसीसी अध्यक्ष थे तो वैभव उपाध्यक्ष थे।

सीएम ने कहा था- पायलट मेरी सिफारिश से मंत्री बने : उल्लेखनीय है कि सीएम अशोक गहलोत ने 10 मार्च को दावा किया था कि सचिन पायलट ने केंद्र में मंत्री बनाने के लिए मदद मांगी थी। मुख्यमंत्री आवास पर  गुर्जर समाज के लोगों को संबोधित करते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि यूपीए 2 मेंने पार्टी से सचिन पायलट को केंद्र में मंत्री बनाने की सिफारिश की थी। अगले दिन पायलट ने फोन कर मंत्री बनवाने में सहयोग करने का आग्रह किया था। सीएम ने पायलट से कहा कि मैं पहले ही मंत्री बनाने के लिए कांग्रेस आलाकमान को आपका नाम भेज चुका हूं। सीएम ने कहा कि यह बात मैंने किसी को नहीं बताई थी।


Share