फाइजर के CEO का दावा – भारत में अप्रूवल मिलने के फाइनल स्टेज में वैक्सीन

फाइजर का कोरोना टीका 95% असरकारक
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत के कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम में जल्द ही एक और वैक्सीन शामिल हो सकती है। अमेरिकी फार्मा कंपनी फाइजर के सीईओ ने दावा किया है कि उनकी वैक्सीन भारत में अप्रूवल मिलने के फाइनल स्टेज में है। सीईओ एल्बर्ट बोर्ला ने आशा जाहिर की है कि जल्दी ही कंपनी का भारत सरकार के साथ एग्रीमेंट हो सकता है। बीते महीने फाइजर ने कहा था कि वह अपनी वैक्सीन के पांच करोड़ डोज भारत देने को तैयार है। कंपनी ने कहा था कि वो इतने 2021 में दे सकती है। हालांकि कंपनी ने कुछ रेगुलेटरी रिलैक्सेशन की मांग भी की थी जिनमें क्षतिपूर्ति के नियम भी शामिल हैं।

इससे पहले खबर आई थी कि कोरोना वायरस टीकाकरण के लिए भारत सरकार जल्द ही विदेशी कोविड वैक्सीन फाइजर को मंजूरी दे सकती है। इसके साथ ही फाइजर कंपनी को कानूनी जवाबदेही से भी प्रोटेक्शन मिल सकती है। रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से कहा था, कंपनी को इंडेमनिटी (हानि से सुरक्षा) भी दी जाएगी, और अगर एक कंपनी को मिल गई तो फिर सभी कंपनियों को दी जाएगी। भारत ने फाइजर, मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन को अप्रैल महीने में वैक्सीन निर्माण के लिए न्यौता दिया था, हालांकि केंद्र सरकार और कंपनियों के बीच कोई समझौता नहीं हो पाया।

फाइजर ने बिना इंडेमनिटी के अभी तक किसी भी देश को वैक्सीन नहीं बेची है। यह सुरक्षा मिल जाने के बाद वैक्सीन के किसी भी साइड इफेक्ट के लिए कंपनी कानूनी तौर पर जिम्मेदार नहीं होगी। बता दें कि भारत ने किसी भी कोविड वैक्सीन निर्माता कंपनी को कानूनी क्षतिपूर्ति से प्रोटेक्शन नहीं दी है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि सरकार अपने रूख में बदलाव करने वाली है।


Share