बॉर्डर पर निर्माण की पाकिस्तानी साजिश: भारतीय सेना ने दी चेतावनी, सीमा पर निर्माण बंद करो नहीं तो दूसरे तरीके भी आते हैं, घबराए पाकिस्तान ने काम रोका

Pakistani conspiracy to build on the border: Indian Army warned
Share

जम्मू (एजेंसी)। चीन के बाद अब पाकिस्तान भी भारतीय सीमा के करीब कंस्ट्रक्शन की कोशिश कर रहा था। यह कंस्ट्रक्शन नॉर्थ कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के टीटवाल सेक्टर में रुशष्ट के पार 500 मीटर के दायरे में किया जा रहा था। मंगलवार को जब भारतीय सेना को इसका पता लगा तो माइक पर पाकिस्तानी सैनिकों को चेतावनी दी गई, जिसे सुनकर पाकिस्तान ने कंस्ट्रक्शन रोक दिया। पाकिस्तान की यह हरकत रुशष्ट प्रोटोकॉल के खिलाफ है।

भारतीय सेना ने कहा- काम बंद नहीं किया तो गुजारिश नहीं करेंगे

भारतीय सेना के अफसरों ने माइक पर अनाउंस करते हुए कहा, ‘इस कंस्ट्रक्शन को बंद कर दीजिए, आप हमारी बात नहीं सुनेंगे तो हमें आगे की कार्रवाई करनी पड़ेगी। प्रोटोकॉल के हिसाब से आप इस जगह पर कुछ नहीं बना सकते इसलिए इस काम को आप बंद कर दीजिए। आप 500 मीटर के अंदर आने वाले हिस्से में कंस्ट्रक्शन का काम कर रहे हैं। हम आपसे बार-बार गुजारिश कर रहे हैं, अगर आपने अब काम बंद नहीं किया तो गुजारिश नहीं करेंगे। हमें दूसरी कार्रवाई भी करनी आती है। आर्मी के अलावा टीटवाल सेक्टर में बसे गांव वालों ने भी माइक पर पाकिस्तान से कंस्ट्रक्शन बंद करने की बात की। गांव वालों ने भी माइक पर अनाउंसमेंट करके पाकिस्तान को चेतावनी दी और कहा, ‘हम सारे गांव वाले गुजारिश करते हैं कि आप मेहरबानी करके कंस्ट्रक्शन बंद कर दीजिए।

मंगलवार को ही गांव वालों ने भारतीय सेना को पाकिस्तानी कंस्ट्रक्शन की जानकारी दी, इसके बाद अफसरों ने माइक पर पाकिस्तानियों को चेतावनी दी।

कुपवाड़ा पुलिस बोली- पाकिस्तानियों ने काम रोक दिया

कुपवाड़ा के एसएसपी युगल मनहास ने भास्कर से बातचीत में ये बात कन्फर्म की है कि पाकिस्तान ने टीटवाल सेक्टर में कुछ गैरकानूनी कंस्ट्रक्शन करने की कोशिश की। उन्होंने बताया कि एलओसी के 500 मीटर के अंदर कंस्ट्रक्शन नहीं किया जा सकता है, लेकिन जैसे ही हमने आपत्ति जताई तो पाकिस्तान की तरफ से कंस्ट्रक्शन रोक दिया गया।

एक्सपर्ट बोले- यह कंस्ट्रक्शन पाकिस्तान की तरफ से मैसेज

सिक्योरिटी एक्सपर्ट और रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल सतीश दुआ ने भास्कर से बातचीत में कहा, ‘प्रोटोकॉल के हिसाब से रुशष्ट के 500 मीटर के दायरे में कोई भी देश कंस्ट्रक्शन नहीं कर सकता है, लेकिन अगर रुशष्ट के पास ही कंस्ट्रक्शन हो रहा है तो ये पाकिस्तान के तरफ से अग्रेसिव मैसेजिंग हो सकती है।

‘आमतौर पर पहाड़ी इलाकों में पुलिया की मरम्मत करने के लिए मानवीय आधार पर दोनों देश आपसी सहमति से हल्का-फुल्का कंस्ट्रक्शन करने देते हैं, लेकिन अगर पाकिस्तान ने बिना सूचना दिए कंस्ट्रक्शन की कोशिश की है तो ये गंभीर मामला है।‘


Share