पाक विदेश मंत्री सऊदी विदेश मंत्री के सामने जूता दिखाते अकड़कर बैठे

Pak foreign minister sat sternly showing shoes in front of Saudi foreign minister
Share

रियाद/ इस्लामाबाद (एजेंसी)। सऊदी अरब के पैसे पर पलने वाले कंगाल पाकिस्तान ने एक बार फिर से अब अपने ही ‘मालिक’ को आंखें दिखाना शुरू कर दिया है। पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी मंगलवार को सऊदी अरब के विदेश मंत्री के सामने अपमानजनक तरीके से अकड़कर बैठे नजर आए। उनका जूता सऊदी विदेश मंत्री की तरफ था। कुरैशी के बैठने के इस तरीके पर सऊदी जनता भड़क गई है। ऐसा दूसरी बार है जब कुरैशी सऊदी अरब-पाकिस्तान के रिश्ते के लिए सिरदर्द साबित हुए हैं।

सऊदी अरब की जनता देश के विदेश मंत्री नवाफ बिन सैद अल मलकी के सामने इस्लामाबाद में अकड़कर बैठे पाकिस्तानी विदेश मंत्री कुरैशी की सोशल मीडिया में जमकर आलोचना कर रही है। इस तस्वीर में कुरैशी अपना जूता सऊदी विदेश मंत्री की ओर किए हैं और यह सऊदी लोगों को बहुत नागवार गुजरा है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में दोनों मंत्रियों ने इलाके के ताजा हालात पर चर्चा की है और आपसी रिश्तों की समीक्षा की है।

‘राजनयिक प्रोटोकॉल के मूलभूत सिद्धांतों के प्रति बेशर्मी, मूर्खता’

उधर, सऊदी जनता ने इस बैठक को अलग तरीके से लिया है। एक यूजर ने कॉमेंट किया, पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने सऊदी विदेश मंत्री का बहुत ही गलत तरीके से स्वागत किया है। पाकिस्तानी विदेश मंत्री के सऊदी विदेश मंत्री का इस तरह से स्वागत करने का अगर कोई बड़ा कारण (मेडिकल) नहीं है तो यह राजनयिक प्रोटोकॉल के मूलभूत सिद्धांतों के प्रति बेशर्मी, मूर्खता और अज्ञानता की हद है।

ट्विटर यूजर ने कहा, मैं अगर सऊदी विदेशी मंत्री के साथ मैं होता तो मैं उठकर चला जाता। एक और यूजर ने लिखा, यह पाकिस्तानी विदेश मंत्री का सऊदी अरब के विदेश मंत्री के प्रति अशिष्ट, मूर्खतापूर्ण और गैर राजनयिक व्यवहार है। सऊदी विदेश मंत्री ने जिस तरह से इस अपमान को चुपचाप सह लिया, उससे मैं उनका प्रशंसक हो गया हूं। पाकिस्तान और सऊदी अरब के बीच गहरे राजनयिक और सैन्य संबंध हैं लेकिन हालिया वर्षों में पाकिस्तान के मूर्खतापूर्ण व्यवहार की वजह से खराब हो गए हैं।

कुरैशी ने सऊदी अरब को दे डाली थी बड़ी धमकी

इससे पहले चीन और तुर्की के इशारे पर नाच रहे पाकिस्तान ने कश्मीर को लेकर अब अपने पुराने ‘मित्रÓ सऊदी अरब को बड़ी धमकी दे डाली थी। पाकिस्तान की नापाक साजिश में साथ नहीं देने पर कुंठा में आए पाकिस्तानी विदेश मंत्री कुरैशी ने सऊदी अरब के नेतृत्व वाले ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कंट्रीज (ओआईसी) को धमकाना शुरू कर दिया था। उन्होंने कहा कि ओआईसी कश्मीर पर अपने विदेश मंत्रियों की परिषद की बैठक बुलाने में हीलाहवाली बंद करे। कुरैशी ने कहा था, मैं एक बार फिर से पूरे सम्मान के साथ ओआईसी से कहना चाहता हूं कि विदेश मंत्रियों की परिषद की बैठक हमारी अपेक्षा है। यदि आप इसे बुला नहीं सकते हैं तो मैं प्रधानमंत्री इमरान खान से यह कहने के लिए बाध्य हो जाऊंगा कि वह ऐसे इस्लामिक देशों की बैठक बुलाएं जो कश्मीर के मुद्दे पर हमारे साथ खड़े होने के लिए तैयार हैं। एक अन्य सवाल के जवाब में कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान और ज्यादा इंतजार नहीं कर सकता है।

सऊदी अरब भारत के खिलाफ नहीं दे रहा पाक का साथ

बता दें कि पाकिस्तान कश्मीर से अनुच्छेद 370 के खात्मे के बाद से ही 57 मुस्लिम देशों के संगठन ओआईसी के विदेश मंत्रियों की बैठक बुलाने के लिए लगातार सऊदी अरब पर दबाव डाल रहा है। हालांकि अब तक उसे इस प्रयास में सफलता नहीं मिल पाई है। संयुक्त राष्ट्र के बाद ओआईसी दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा संगठन है। ओआईसी की बैठक न होने के पीछे एक बड़ी वजह सऊदी अरब है। सऊदी अरब ओआईसी के जरिए भारत को कश्मीर पर चित करने की पाकिस्तानी चाल में साथ नहीं दे रहा है।


Share