वैक्सीनेशन के तीसरे फेज में राजस्थान आगे

गहलोत-वसुंधरा ने लगवाई वैक्सीन
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)।  राजस्थान में कोरोना वैक्सीन लगवाने के मामले में बुजुर्गों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। प्रदेश में वैक्सीनेशन के तीसरे फेज में 5 दिन में 7 लाख से ज्यादा बुजुर्ग टीका लगवा चुके हैं। इनमें 60 साल से ज्यादा या 45 साल से ऊपर वाले वे लोग हैं जो गंभीर बीमारी से पीडि़त हैं। टीका लगवाने वालों में राज्यपाल, मुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री से लेकर कई वीआईपी शामिल हैं। 5 मार्च को वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या सबसे ज्यादा रही। इस दिन 2.52 लाख से ज्यादा ने टीका लगवाया।

स्वास्थ्य विभाग से जारी रिपोर्ट को देखें तो 5 मार्च को राजस्थान में 60 साल से ज्यादा उम्र वाले 2.35 लाख और 45 से 59 साल के गंभीर बीमारी से ग्रसित 17 हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाई। राज्य में 16 जनवरी से हेल्थ केयर वर्कर्स को टीका लगाने के साथ कोरोना वैक्सीनेशन का अभियान शुरू हुआ था।

अब तक 18.90 लाख टीके लगे

राजस्थान की बात करें तो 16 जनवरी से अब तक हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स, 60 वर्ष या उससे ज्यादा उम्र के बुजुर्ग और 45 से 59 साल के बीमारी से ग्रसित व्यक्तियों के 18.90 लाख टीके लग चुके हैं। इसमें कई हेल्थ केयर वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स ऐसे हैं, जिन्हें दूसरी डोज भी लग चुकी है।

देश में लगी कुल वैक्सीन के 9.69′ के साथ राजस्थान पहले स्थान पर

कोरोना की वैक्सीन लगवाने के मामले में राजस्थान देश में पहले स्थान पर है। पूरे देश में एक करोड़ 94 लाख 97 हजार से ज्यादा लोगों को टीका लगाया जा चुके हैं। इसमें से 9.69′ टीके राजस्थान में लगे हैं। इसके चलते राजस्थान पूरे देश में वैक्सीन लगाने के मामले में पहले स्थान पर है। जबकि बिहार, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश जैसे ज्यादा आबादी वाले राज्यों में भी राजस्थान से कम वैक्सीन लगी है।


Share