नासिक अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक -रिपेयर में लगे 30 मिनट| 24 मरीजों की वेंटिलेटर पर मौत

नासिक अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक
Share

नासिक (एजेंसी)। देश में कोरोना वायरस महामारी की वजह से उपजे ऑक्सीजन संकट के बीच बुरी तरह प्रभावित राज्य महाराष्ट्र से एक बेहद दर्दनाक खबर मिली है। महाराष्ट्र के नासिक में बुधवार को सरकारी अस्पताल में बड़ा हादसा हो गया। नगर निगम के जाकिर हुसैन अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक हो गया। इसे रिपेयर करने में 30 मिनट का वक्त लगा और इतनी देर ऑक्सीजन सप्लाई रोक दी गई। इसके चलते 24 मरीजों की मौत हो गई और 33 की हालत अभी नाजुक है। मौतों की पुष्टि नासिक के जिलाधिकारी सूरज मांढरे ने की है।

नासिक के मेयर सतीश कुलकर्णी ने देर शाम दो और मौतों की पुष्टि की। दोपहर दो बजे के करीब हुई इस घटना में 22 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। राज्य सरकार ने मामले की जांच हाई पावर कमेटी से कराने की घोषणा की है।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि संभवत: ऑक्सीजन सप्लाई में आई रूकावट की वजह से इन मरीजों की मौत हुई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख जताया है। वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने मारे गए लोगों के परिजनों को 5-5 लाख की आर्थिक सहायता देने की भी घोषणा की है।

नासिक के डिविजनल कमिश्नर राधाकृष्ण गामे ने कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना सुबह 10 बजे हुई, जब ऑक्सीजन टैंक में खराबी आ गई। अस्पताल प्रशासन ने कुछ मरीजों को शिफ्ट किया, फिर भी ऑक्सीजन प्रेशर कम होने की वजह से 22 मरीजों की मौत हो गई। घटना के बाद मरीजों के रिश्तेदार वार्ड में घुस गए और हंगामा करने लगे। इससे स्थिति को बहाल करने में समय लगा।

मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश

महाराष्ट्र के नासिक में ऑक्सीजन लीकेज की वजह से अस्पताल में 24 लोगों की मौत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएम मोदी ने कहा है कि नासिक हादसा दिल दहलाने वाला है। उन्होंने हादसे में लोगों की मौतों पर दुख जताते हुए पीडि़त परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर की है। इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने घटना की जांच का आदेश देते हुए मुआवजे का ऐलान किया है।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ऑक्सीजन टैंक लीकेज की वजह से नासिक के अस्पताल में हुआ हादसा दिल दहलाने वाला है। इसकी वजह से लोगों की मौत से दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में पीडि़त परिवारों के साथ संवेदनाएं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश देते हुए मृतकों के परिवारों के लिए 5-5 लाख रूपए मुआवजे का ऐलान किया है। इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि किसी और अस्पताल में इस तरह का हादसा ना हो, यह सुनिश्चित किया जाए। घटना की विस्तृत जांच कराई जाए।


Share