देश में पैर पसारने लगा ओमिक्रॉन, द.अफ्रीका से मुंबई लौटा शख्स मिला संक्रमित, अब तक 4 केस

Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट का देश में एक और केस मिल गया है। दक्षिण अफ्रीका से मुंबई लौटा शख्स ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित पाया गया है। अब तक देश के तीन राज्यों में 4 केस सामने आ चुके हैं। इससे पहले शनिवार को ही गुजरात के जामनगर में भी एक बुजुर्ग इस वेरिएंट से पीडि़त मिला है तो दो केस कर्नाटक में मिल चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग ने बताया है कि 33 साल का यह शख्स 24 नवंबर को केपटाउन से लौटा था। वह दुबई और दिल्ली होते हुए मुंबई आया। उसने कोई वैक्सीन नहीं ली है। राहत की बात यह है कि उसके संपर्क में आए सभी लोग कोरोना निगेटिव पाए गए हैं। दिल्ली-मुंबई फ्लाइट में उसके साथ सफर करने वाले 25 यात्रियों की रिपोर्ट की भी निगेटिव आई है। महाराष्ट्र में स्वास्थ्य विभाग के निदेशक ने बताया कि संक्रमित मरीज मुंबई के समीप कल्याण डोम्बिवली नगरपालिका क्षेत्र में पहुंचा था और यहां जांच में कोरोना संक्रमित पाया गया। जीनोम सिक्वेंसिंग के बाद ओमिक्रॉन वेरिएंट की पुष्टि हुई।

जिम्बाब्वे से लौटा जामनगर का व्यक्ति संक्रमित

जिम्बाब्वे से लौटा गुजरात के जामनगर शहर का 72 वर्षीय एक व्यक्ति कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन से संक्रमित पाया गया है। गुजरात में सामने आया मामला भारत में ओमीक्रोन स्वरूप का तीसरा केस बना। अधिकारियों ने कहा कि यह व्यक्ति 28 नवंबर को जिम्बाब्वे से गुजरात आया था और दो दिसंबर को कोरोना वायरस से संक्रमित मिला था, जिसके बाद उसका नमूना जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था। यह व्यक्ति पिछले कई साल से जिम्बाब्वे में रह रहा है और वह राज्य में अपने ससुर से मिलने आया था।

40 से अधिक देशों में दस्तक

सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में पाया गया कोरोना का यह वेरिएंट बेहद खतरनाक माना जा रहा है। 50 से अधिक म्यूटेशन वाला यह वेरिएंट बेहद कम समय में 40 से अधिक देशों में पहुंच चुका है। माना जा रहा है कि यह डेल्टा वेरिएंट से भी कहीं अधिक तेजी से फैल सकता है और इम्युनिटी को भी चकमा दे सकता है। यही वजह है कि कई देशों ने इसके डर से अपनी सीमाओं को सील कर दिया है और विदेशी यात्रियों के आने पर रोक लगा दी है।


Share