टी-20 में अब स्लो ओवर रेट पड़ेगा महंगा, मैच तक ‘गंवाना’ पड़ सकता

Now slow over rate will be expensive in T20, may have to be 'lost' till the match
Share

दुबई (एजेंसी)। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने पुरूष और महिला क्रिकेट दोनों के टी-20 प्रारूप में धीमे ओवर रेट के लिए इन-गेम पेनल्टी यानी मैच में दंड की शुरूआत की है, जो इस महीने से प्रभाव में होगी।

आईसीसी के ओवर रेट नियमों के अनुसार फील्डिंग टीम पारी के अंत के लिए निर्धारित समय तक अपनी पारी के अंतिम ओवर की पहली गेंद फेंकने की स्थिति में होनी चाहिए। इसमें विफल रहने पर टीमों को शेष पारी के लिए 30 गज के सर्कल के बाहर पांच के बजाय चार फील्डर रखने की अनुमति दी जाएगी।

समझा जाता है कि आईसीसी ने इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) को देखते हुए यह नियम अपनाया है, जिसने पिछले साल जुलाई में फ्रेंचाइजी क्रिकेट ‘द हंड्रेड’ के पहले सीजन में इसी तरह का नियम लागू किया था। आईसीसी ने इस बारे में कहा कि उसने टी-20 प्रारूप की गति में सुधार के लिए इस नियम की प्रभावशीलता की रिपोर्ट को पढऩे के बाद इसे अपनाया है। आईसीसी के मुताबिक मैच में दंड धीमे ओवर रेट के लिए मौजूदा आईसीसी जुर्माने के अतिरिक्त होगा।

आईसीसी ने इसके अलावा द्विपक्षीय टी-20 श्रृंखलाओं में पारी के बीच में वैकल्पिक ङ्क्षड्रक्स ब्रेक को भी पेश किया है। टीमें अब प्रत्येक पारी के मध्य समय पर ढाई मिनट के ब्रेक का विकल्प चुन सकती हैं, जो प्रत्येक श्रृंखला की शुरूआत से पहले दोनों टीमों के बीच एक समझौते के अधीन है।

आईसीसी के मुताबिक 16 जनवरी को सबीना पार्क में वेस्ट इंडीज और आयरलैंड के बीच खेला जाने वाला टी-20 मैच  पुरूषों का पहला मैच होगा, जिसमें इन नए नियमों का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके दो दिन बाद, महिलाओं के मैच में पहली बार इसका इस्तेमाल किया जाएगा, जब सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका और वेस्ट इंडीज की महिला टीम आपस में भिड़ेंगी।


Share