अब गूगल देगा बाढ़ के पूर्वानुमान की जानकारी

अब गूगल देगा बाढ़ के पूर्वानुमान की जानकारी
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। गूगल ने बुधवार को भारत में अपने बाढ़ पूर्वानुमान पलह पर एक अपडेट जारी किया है। कंपनी ने कहा कि उसके सिस्टम अब पूरे भारत में काम कर रहे हैं। गूगल सिस्टम अब 250,000 वर्ग किलोमीटर से अधिक भू-भाग में रहने वाले करीब 20 करोड़ से अधिक लोगों की सुरक्षा करने में मदद कर सकता है। यह क्षमता पिछले साल की तुलना में 20 गुना अधिक है। अब तक, गूगल ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को लगभग तीन करोड़ सूचनाएं भेजी हैं।

भारत में अपने कवरेज का विस्तार करने के अलावा, गूगल ने बांग्लादेश के लिए अपने अलर्ट सिस्टम लाने के लिए बांग्लादेश जल विकास बोर्ड के साथ भागीदारी की है। कंपनी ने कहा कि यह बांग्लादेश में 4 करोड़ से अधिक लोगों को कवर करती है। गूगल भविष्य में पूरे देश में अपने बाढ़ पूर्वानुमान पहल के कवरेज का विस्तार करने की योजना बना रहा है।

गूगल ने आगे कहा कि उसने इस साल एक नया पूर्वानुमान मॉडल पेश किया। गूगल ने सरकारों को सतर्क करने और देश में लोगों को बाढ़ की तैयारी में अतिरिक्त समय देकर मदद की। गूगल की यह बाढ़ पूर्वानुमान प्रणाली अब बाढ़ की गहराई, समय और पानी के बढऩे की मात्रा जैसी जानकारी प्रदान करती है।

कंपनी ने एक और सुधार किया है। अलर्ट को अधिक स्थानीय और सटीक बनाने के लिए गूगल की बाढ़ चेतावनी प्रणाली अब हिंदी, बंगाली के साथ-साथ सात अन्य स्थानीय भाषाओं में उपलब्ध है। यह अब यूजर को अपने दोस्तों और परिवारों की मदद करने के लिए आसानी से भाषा या स्थान बदलने की अनुमति देता है।

एक ब्लॉग पोस्ट में इंजीनियरिंग और संकट प्रतिक्रिया के नेतृत्वकर्ता योसी मातिस ने लिखा, बेशक सभी अलर्ट तकनीक के साथ हुई प्रगति के लिए अभी भी कई चुनौतियों से उबरना बाकी है। भारत और बांग्लादेश में अभी भी बाढ़ के मौसम के साथ, कोविड-19 ने महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे के काम में देरी की है।


Share