कोहली के लिए शतक नहीं… जरूरी हो गए हैं 43 रन, नहीं बने तो फिर जाएगा 6 साल की मेहनत पर पानी

No century for Kohli... 43 runs have become necessary, if not, then water will go on 6 years of hard work
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतकीय पारी खेले हुए 2 साल से ज्यादा का समय हो गया है। आधुनिक क्रिकेट में दिग्गज बल्लेबाजों में शुमार कोहली पर करीब 6 साल में पहली बार एक बड़े रिकॉर्ड को खोने का खतरा मंडरा रहा है। कोहली दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं जिनका क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे और टेस्ट) में 50 प्लस का औसत है। लेकिन विराट की हालिया गिरती फॉर्म ने उनके इस टेस्ट क्रिकेट के रिकॉर्ड को खतरे में डाल दिया है। 33 वर्षीय  विराट कोहली  श्रीलंका के खिलाफ 12 मार्च से शुरू होने वाले सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में यदि 42 या इससे कम का स्कोर बनाते हैं तो, लगभग 6 साल में पहली बार उनका टेस्ट औसत 50 से नीचे चला जाएगा। भारत और श्रीलंका के बीच 2 मैचों की सीरीज का दूसरा डे-नाइट टेस्ट मैच बेंगलुरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा। मौजूदा समय में विराट का टेस्ट में औसत 50.35 है। विराट को टेस्ट में शतक लगाए 838 दिन हो गए हैं। कोहली ने अपना आखिरी शतक नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डंस स्टेडियम में डे नाइट टेस्ट में लगाया था। जब विराट ने अपना 70वां अंतरराष्ट्रीय शतक लगाया था उस समय उनका टेस्ट में बल्लेबाजी औसत 54.97 था। उसके बाद से कोहली की औसत में गिरावट आई है।

52वें टेस्ट में 50 के औसत पर पहुंचे थे कोहली : विराट ने करियर के 52वें टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ वानखेड़े स्टेडियम में 50 की औसत हासिल की थी। तब उन्होंने पहली पारी में 235 रन की पारी खेली थी। साल 2019 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पुणे टेस्ट मैच में 254 रन की पारी खेलकर कोहली ने करियर की बेस्ट बल्लेबाजी औसत 55.10 हासिल की थी। लेकिन धीरे-धीरे विराट की औसत नीचे जा रही है।

कोहली श्रीलंका के खिलाफ मोहाली टेस्ट की पहली पारी में 45 रन बनाकर आउट हुए थे।

तीनों फॉर्मेट में कोहली की बल्लेबाजी औसत

विराट कोहली की टेस्ट में बल्लेबाजी औसत 50.35 की है जबकि वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों में इस दिग्गज बल्लेबाज ने 58.07 की औसत से रन जुटाए हैं। उनकी टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 51.50 की औसत है।


Share