नीतीश ने जारी किया विजन डॉक्युमेंट – युवाओं को रोजगार दिलाने पर जोर

नीतीश ने जारी किया विजन डॉक्युमेंट
Share

पटना (एजेंसी)। बिहार विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को अपने महत्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘सात निश्चय पार्ट-2′ जारी किया। 2015 विधानसभा चुनाव से पहले नीतीश कुमार ने सात निश्चय पार्ट-1 जारी किया था, जिसमें अगले 5 साल में बिहार में जो विकास के कार्यक्रम चलाए जाएंगे, उसका लेखा-जोखा था। सात निश्चय पार्ट-2 में नीतीश कुमार ने सबसे पहली प्राथमिकता युवाओं को दी है। इसके अंतर्गत पिछले 5 साल से युवाओं के लिए जो भी कार्यक्रम चल रहे थे, उसको अगले 5 साल भी जारी रखने का निर्णय लिया गया है। मसलन उच्च शिक्षा के लिए बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना।

साथ ही पिछले 5 वर्षों में बिहार में कई संस्थानों का निर्माण कराया गया है और इसी को आगे बढ़ाते हुए बिहार में प्रत्येक आईटीआई और पॉलीटेक्निक संस्थानों में प्रशिक्षण की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए उच्चस्तरीय सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाने की योजना है। सात निश्चय पार्ट-2 में महिलाओं को सशक्त और सक्षम बनाने की योजना है। नीतीश कुमार ने कहा कि महिलाओं में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए विशेष योजना लाई जाएगी। इसमें उनके द्वारा लगाए जा रहे उद्यमों में परियोजना लागत का 50’ अथवा अधिकतम 5 लाख रूपये तक का अनुदान ब्याज मुक्त ऋण दिया जाएगा।
नीतीश के इस विजन डॉक्यूमेंट में तीसरा स्थान खेती और सिंचाई को दिया गया है। सीएम ने कहा है कि अगले 5 साल में हर खेत तक सिंचाई का पानी उपलब्ध कराया जाएगा।

चौथे नंबर पर स्वच्छ गांव और समृद्ध गांव का लक्ष्य रखा गया है। यहां पर सभी गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट तथा पिछले 5 सालों में हर घर नल का जल योजना को आगे भी जारी रखा जाएगा।

पांचवें नंबर पर स्वच्छ शहर, विकसित शहर की योजना है। इसके अंतर्गत वृद्धजनों के लिए आश्रय स्थल, शहरी गरीबों के लिए बहुमंजिला रहने की जगह, सभी शहरों एवं महत्वपूर्ण नदी घाटों पर विद्युत शवदाह गृह सहित मोक्ष धाम का निर्माण शामिल है।

छठे नंबर पर सुलभ संपर्कता का लक्ष्य रखा गया है। इसके तहत ग्रामीण सड़कों की संपर्कता और शहरी क्षेत्रों में आवश्यकता अनुसार बाईपास और फ्लाईओवर निर्माण की योजना है।

सातवें नंबर पर सभी के लिए अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने की योजना है इस विजन डॉक्यूमेंट में। गांव-गांव तक लोगों के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाना और बेहतर पशु स्वास्थ्य प्रबंधन के लिए आधारभूत व्यवस्थाओं के निर्माण की योजना है।


Share