अभा डांगी क्षत्रिय संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक- देशवासियों को अन्न-जल मुहैया करवाने की ताकत रखने वाला

पहले प्रदेश सरकार पर फिर युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष पर भड़के शहर जिलाध्यक्ष
Share

उदयपुर। अखिल भारतीय डाँगी क्षत्रिय संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक रविवार को उदयपुर के गिर्वा पंचायत समिति सभागार में आयोजित हुई। इस बैठक में मुख्य तौर से समाज में अशिक्षा, एकजुटता की कमी, समाज में फैली कुरीतियां सहित कई मुद्दों पर विचार विमर्श किया। गया साथ ही केंद्र सरकार में डांगी समाज को ओबीसी आरक्षण और राजनीतिक क्षेत्र में समाज की स्थिति को मजबूत करने जैसे मुद्दों पर मंथन हुआ।   मुख्य अतिथि पूर्व राज्यसभा सांसद ठाकुर सुरेंद्र सिंह ने कहा कि हम किसी भी पार्टी से जुड़े हो किसी भी जगह रहते हो, लेकिन जब डांगी समाज की बात आए तो हमें एकजुट होना है। लोकतंत्र और प्रजातंत्र की मांग है कि संगठन मजबूत होना चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि किसी एक जाति के वोट से चुनाव नहीं जीते जा सकते हैं। इसलिए समाज में राजनीति को आने नहीं देना है, हमें शुद्ध रूप से समाज को मजबूत करने के कदम उठाने चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि डांगी समाज खुद को गरीब नहीं मानता, क्योंकि हमें भगवान ने ताकत दी है, खेती करने की क्षमता दी है। हमारा समाज पूरे देशवासियों को अन्न और जल मुहैया कराने की ताकत रखता है, लेकिन अशिक्षित होने के कारण हम पिछड़े हुए हैं ऐसे में हमें शिक्षा के अवसरों को बढ़ाते हुए समाज की मुख्यधारा में आना होगा। विशिष्ट अतिथि संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष वरदी चंद डाँगी ने कहा कि इस तरह के सम्मेलन हर साल आयोजित किए जाएंगे, और खासतौर से सदस्यता बढ़ाने पर जोर दिया जाएगा।

बियावहरा, राजगढ़ के पूर्व विधायक पुरुषोत्तम दांगी ने कहा कि समाज की महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें शिक्षा से जोड़ा जाएगा। पूर्व अध्यक्ष रूपलाल पटेल, राष्ट्रीय महामंत्री वीरेंद्र सिंह डाँगी, प्रदेश अध्यक्ष जेडी ठाकुर, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष मुकेश कुमार डाँगी ने भी अपनी बात कही।  गुजरात, मध्य प्रदेश बिहार अहमदाबाद दिल्ली इंदौर खिलचीपुर मंदसौर राजगढ़ झारखंड गया सहित करीब 12 राज्यों से डांगी समाज के पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया। मोहन दांगी , रामप्रसाद दांगी , मनिष दांगी , हरिऊं दांगी , संजीव कुमार डांगी,गोपाल पटेल , पी एस पटेल , डी सी डांगी सहित कई पदाधिकारी मौजूद रहे।


Share