मोदी का ममता पर करारा वार, बोले-‘चुन-चुन कर हिसाब मांगा जाएगा’

मोदी ने ममता को खूब सुनाया- 'दीदी को मेरे मंदिर जाने पर भी गुस्सा आता है'
Share

कोलकाता (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल के बारासात में सोमवार को चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तृणमूल कांग्रेस पर जबरदस्त हमला बोला। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के किसी भी कोने में चले जाइए गरीब बिकाऊ नहीं होता है। ममता सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, आपके टोलाबाजों की तरह गरीब दूसरों की कमाई पर नहीं पलता है। दीवार पर लिखा पढ़ लीजिए दीदी, जनता ने आपकी विदाई का मन बना लिया है। दीदी आपको जनता के निर्णय को स्वीकार करना ही पड़ेगा। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सीधा हमला बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, जब से चुनाव शुरू हुआ है, दीदी ने कभी नहीं कहा कि ज्यादा से ज्यादा मतदान होना चाहिए। क्या दीदी ने एक बार भी कहा कि सभी वर्ग के लोग लोकतंत्र के इस उत्सव में बढ़-चढ़कर हिस्सा लें।

‘आपके प्यार को ब्याज समेत लौटाऊंगाÓ

प्रधानमंत्री ने कहा, टीएमसी सुप्रीमो ने एक बार भी ये नहीं कहा कि जो लोग हिंसा फैलाएंगे, मतदान में बाधा डालने का प्रयास करेंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी? बंगाल की जनता समझ सकती है कि दीदी के इरादे क्या हैं? दीदी जानती हैं कि चुनाव में उनके गुंडे ही हिंसा कर रहे हैं, इसलिए वो हिंसा फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की बात नहीं कर रहीं. दीदी अपने ही लोगों पर जो हिंसा करते हैं, उन पर कार्रवाई कैसे करेगी. ये जो सबकुछ हो रहा है दीदी की नाक के नीचे हो रहा है। पता नहीं इशारा कहां से होता है, कब होता है, कैसे होता है। मैं आपके प्यार को ब्याज समेत लौटाऊंगा।

अपना भतीजा ही सब कुछ

ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अपने भतीजे के भविष्य को बचाने के लिए, भाइको के भविष्य को बचाने के लिए दीदी ने बंगाल के युवाओं के वर्तमान और भविष्य को दांव पर लगा दिया है। दस साल के शासन में दीदी ने अपने भतीजे को कहां से कहां पहुंचा दिया। बंगाल के युवाओं को कुछ दिया क्या। सिर्फ चाकरी का इंतजार और चाकरी में भ्रष्टाचार। क्या अपना भतीजा ही सबकुछ है।

पाई-पाई का हिसाब होगा : मोदी ने कहा, दीदी के राज्य में हुए हर अत्याचार का पूरा हिसाब लिखकर रखिए, चुन चुन कर हिसाब मांगा जाएगा. पल-पल का हिसाब मांगा जाएगा. पाई पाई का हिसाब मांगा जाएगा। एक मासूम बिटिया के साथ जो हुआ, उसे हम भूल नहीं सकते हैं। उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, मैं यहां आई हर मां, बेटी के सामने दीदी की सरकार की एक और सच्चाई सामने रखना चाहता हूं। बहन-बेटियों के लिए देशभर में फास्ट ट्रैक खोली जा रही है, लेकिन दीदी की सरकार ने इस पर रोक लगा दी है।


Share