जालंधर से मोदी का पंजाब सरकार पर एक और हमला, ‘मंदिर जाना था, मगर पुलिस ने हाथ खड़े कर दिए’

Modi's another attack on the Punjab government from Jalandhar, 'was to go to the temple, but the police raised their hands'
Share

जालंधर  (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को चुनावी दौरे पर पंजाब के जालंधर पहुंचे। यहां चुनावी मंच से उन्होंने एक बार फिर पंजाब सरकार पर सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े किए। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जालंधर आकर मैं मां त्रिपुरमालिनी के दर्शन करने जाना चाहता था, मगर यहां के पुलिस-प्रशासन ने अपने हाथ खड़े कर दिए। अब ये हाल हैं सरकार के यहां। प्रधानमंत्री ने कहा, आज मेरी इच्छा थी कि देवी जी के चरणों में जाकर नमन करूं, उनका आशीर्वाद लूं। लेकिन यहां के प्रशासन और पुलिस ने हाथ खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि हम व्यवस्था नहीं कर पाएंगे आप हेलीकॉप्टर से ही चले जाइए। अब ये हाल हैं सरकार के यहां। पिछले महीने ही पंजाब के फिरोजपुर जाते समय रास्ते में एक फ्लाईओवर प्रधानमंत्री का काफिला करीब आधे घंटे फंसा रहा। इसे प्रधानमंत्री की सुरक्षा में बड़ी चूक बताया गया और पंजाब पुलिस पर सवाल उठे थे।

‘पंजाब ने मुझे तब रोटी खिलाई है, जब…’

पंजाब से अपने पुराने रिश्ते का इजहार करते हुए प्र.म. मोदी ने कहा, पंजाब ने मुझे तब रोटी खिलाई है जब मैं भाजपा का एक साधारण कार्यकर्ता के तौर पर यहां गांव-गांव में काम करता था। पंजाब ने मुझे इतना कुछ दिया है कि मैं इसका कर्ज उतारने के लिए जितनी सेवा करता हूं, मुझे उतनी ही और मेहनत करने का मन करता है। गुरूओं, पीरों, फकीरों, महान क्रांतिकारियों और जनरलों की धरती पर आना अपने आप में बहुत बड़ा सुख है।

‘देश के लिए आपने मेरी मेहनत देखी है’

रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीते वर्षों में आप सभी ने देश के लिए मेरी मेहनत देखी है। हम देश के लिए जो संकल्प लेते हैं, उसे हम प्रकल्प बनाते हैं और प्रकल्प को परिपूर्ण करने के लिए जीवन खपा देते हैं। नया भारत तब बनेगा, जब इस दशक में ‘नवा पंजाब’ बनेगा। नवा पंजाब- जिसमें विरासत भी होगी, विकास भी होगा। नवा पंजाब- जो कर्ज से मुक्त होगा, अवसरों से युक्त होगा। नवा पंजाब- जहां हर दलित भाई-बहन को मान मिलेगा, हर स्तर पर उचित भागीदारी मिलेगी।

‘कांग्रेस के लोग अपने नेताओं की सारी पोल पट्टी खोल रहे’

पंजाब को एक ऐसी सरकार की जरूरत है जो देश की सुरक्षा के लिए गंभीर रहकर काम करे। कांग्रेस का इतिहास गवाह है कि वो कभी पंजाब के लिए काम नहीं कर सकती। और जो काम करना भी चाहता है, वो उसके आगे हजार रोड़े खड़े कर देती है। आज कांग्रेस पार्टी की क्या गति है, आज उनकी अपनी ही पार्टी बिखर रही है। कांग्रेस के लोग अपने नेताओं की सारी पोल पट्टी खोल रहे हैं। आपस में लड़ रहे लोग पंजाब को स्थिर सरकार नहीं दे सकते हैं। अपनी कुर्सी बचाने में जुटे ये लोग पंजाब का विकास नहीं कर सकते हैं।


Share