बिहार में मोदी की 12 रैलियां 23 से शुरू करेंगे प्रचार

सिद्धू को कांग्रेस ने दिया जोर का झटका
Share

पटना (एजेंसी)। बिहार विधानसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में 12 रैलियां करेंगे। ये रैलियां वर्चुअल नहीं होंगी, बल्कि मोदी खुद वहां जाएंगे। शुरूआत 23 अक्टूबर को सासाराम से होगी। रैलियों में नीतीश कुमार समेत सहयोगी दलों के नेता रहेंगे।

सारी रैलियां एनडीए की

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि बिहार में प्रधानमंत्री की सारी रैलियां भाजपा की नहीं, बल्कि एनडीए की रैलियां होंगी। रैलियों के दौरान एक समय में 100 जगहों पर एलईडी स्क्रीन के जरिए भी उनका भाषण दिखाया जाएगा। जिस जिले में रैली होगी, वहां हर विधानसभा क्षेत्र में पांच जगहों पर एलईडी के जरिए सभा होगी। तकनीक के जरिए एनडीए ज्यादा से ज्यादा लोगों तक अपनी बात पहुंचाएगी।

रविशंकर ने बताया राजद का जन्म क्यों हुआ

सूचना प्रसारण और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राजद पर हमला करते हुए कहा, वे अपनी विरासत की तस्वीर लगाने से भी शरमा रहे हैं। वे तस्वीर लगाएंगे तो खौफ, लूट और अपहरण की याद आ जाएगी। जब एक बड़े घोटाले में गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी और पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने का दबाव बढऩे लगा तब राजद बनाया गया।

बीच के दिनों में आएंगे शाह-योगी

प्रधानमंत्री नवरात्र के दौरान निराहार रहते हैं। नवरात्र के 9 दिन वे केवल पानी पीकर रहते हैं। इसी में वे वोट मांगने आएंगे तथा एनडीए की सरकार बनाने की अपील करेंगे। प्रधानमंत्री की रैलियों के बीच के दिनों में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी जैसे स्टार प्रचारक रैलियां करेंगे।

मोदी की रैलियों के जरिए भाजपा की नजर 110 सीटों पर

23 अक्टूबर : सासाराम, गया, भागलपुर। सासाराम रोहतास जिले में है, जहां 7 विधानसभा सीटें हैं। गया जिले में 10 और भागलपुर में 7 विधानसभा सीटें हैं। यानी तीन रैलियों के जरिए मोदी 24 सीटों पर प्रचार की कोशिश करेंगे।

28 अक्टूबर : दरंभगा, मुजफ्फरपुर, पटना (इसी दिन पहले फेज के तहत 71 सीटों पर वोटिंग होगी)। दरभंगा जिले में 10, मुजफ्फरपुर में 11 और पटना जिले में 14 विधानसभा सीटें हैं। यानी तीन

रैलियों के जरिए मोदी 35 सीटों तक पहुंच सकते हैं।

1 नवंबर : छपरा, पूर्वी चंपारण और समस्तीपुर। छपरा जिले में 10, पूर्वी चंपारण में 12 और समस्तीपुर जिले में 10 सीटें हैं। यानी मोदी कुल 32 सीटों पर असर डाल सकते हैं।

3 नवंबर : पश्चिमी चंपारण, सहरसा और फारबिसगंज (इसी दिन दूसरे फेज के तहत 94 सीटों पर वोटिंग होगी)। पश्चिमी चंपारण जिले में 9, सहरसा में 4 और फारबिसगंज जिले में 6 सीटें हैं। यानी मोदी कुल 19 सीटों पर प्रचार कर सकते हैं।


Share