‘अग्निपथ’ पर मोदी सरकार को मिला कांग्रेस सांसद का साथ, बोले- सही दिशा में उठाया गया कदम

'अग्निपथ’ पर मोदी सरकार को मिला कांग्रेस सांसद का साथ, बोले- सही दिशा में उठाया गया कदम
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)।  कांग्रेस के राज्यसभा सांसद मनीष तिवारी ने केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ भर्ती योजना को सही ठहराया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि सेना के लिए सरकार की नई अग्निपथ योजना आधुनिक युद्ध के तरीकों में भारी बदलाव को देखते हुए ‘सही दिशा में उठाया गया कदम’ है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में आपको एक मोबाइल आर्मी, एक युवा आर्मी चाहिए। आपको ज्यादा खर्च टेक्नोलॉजी और हथियारों पर करना होगा और ऐसा तब तक नहीं हो सकता जब तक आपके पास मैदान पर भारी संख्या में सेना है। उन्होंने कहा कि ज्यादा संख्या में सेना होने पर आपको उस ओर ज्यादा पैसा भी खर्च करना पड़ता है।

-कड़ा विरोध कर रही है कांग्रेस

गौरतलब है कि विपक्ष ने गुरूवार को अग्निपथ योजना को लेकर केंद्र पर अपना हमला तेज करते हुए इसे वापस लेने की मांग की। कांग्रेस ने इस योजना के विरोध में कड़ा रूख अपनाते हुए कहा कि यह योजना ‘सशस्त्र बलों से कमजोर करने वाली है’। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि वे बेरोजगार युवाओं की आवाज सुनें और युवाओं को अग्निपथ पर चलाकर उनके धैर्य की ‘अग्निपरीक्षा’ नहीं लें।

-‘सरकार का गणित बिगाड़ रही वन रैंक वन पेंशन योजना’

एक इंटरव्यू में मनीष तिवारी ने पार्टी लाइन से हटकर कहा कि सबसे ज्यादा जरूरी महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि पिछले दशकों में युद्ध के तरीकों में बदलाव हुआ है। उन्होंने कहा, अगर आप तीन दशक पुराने सुरक्षाबलों को देखेंगे तो आपको मोबाइल अभियान बल की जरूरत महसूस होगी, जो टेक्नोलॉजी पर निर्भर है, जिसके पास लेटेस्ट हथियार है और युवा भी है। इसलिए उस स्थिति में यह एक बेहद जरूरी सुधार है। कांग्रेस सांसद ने कहा, चाहे आपको पसंद आए या ना आए, वन रैंक वन पेंशन योजना के कारण बढ़ता पेंशन बिल सरकार के गणित को बिगाड़ रहा है।


Share