एमबीबीएस छात्र कोविड-19 महामारी के बारे में पढ़ेंगे

एमबीबीएस छात्र कोविड-19 महामारी के बारे में पढ़ेंगे
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। देशभर में एमबीबीएस करने वाले छात्रों को नए सेशन से कोविड-19 महामारी के बारे में भी पढ़ाया जाएगा। एमबीबीएस में 80 घंटे का नया कोर्स महामारी प्रबंधन जोड़ा गया है। कोरोना वायरस के इतिहास से लेकर उपचार, सामाजिक व कानूनी पहलुओं का अध्ययन शामिल है।

मेडिकल छात्रों को महामारी के दौरान संक्रमण नियंत्रण, रोग प्रबंधन, महामारी प्रबंधन, अनुसंधान, संवाद और गहन देखभाल के बारे में पढ़ाया जाएगा। इतना ही नहीं अब तक फैले रोग जैसे प्लेग, कॉलेरा, एशियन फ्लू, स्वाइन फ्लू, एचआईवी के साथ कोविड-19 के केसेज, डेथ, रिकवरी, संक्रमित केसेज व डेथ कंट्रोल प्रबंधन की पढ़ाई भी करवाई जाएगी।

इसके अलावा मौत से लड़कर किस तरह से कोरोना को मात दी गई इस बारे में भी जानकारी दी जाएगी। इसको सक्सेस स्टोरिज के साथ शामिल किया जाएगा। वही कोरोनाकाल मे हुई मेडिकल रिसर्च को भी सम्मलित किया जाएगा। मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) के बोर्ड ऑफ गवर्नेंस (बीओजी) ने यह महामारी प्रबंधन कोर्स तैयार कर जारी किया है। इस कोर्स के पीछे मकसद है कि भविष्य में अगर कोई महामारी आती है कि उससे निपटा जा सके।
सैंपल कलेक्शन, एन-95 मास्क व आईसीयू मैनेजमेंट बताएंगे

कोर्स में पढ़ाया जाएगा कि किस तरह से इन्फेक्शन कंट्रोल किया जा सकता है शामिल है। सैंपल कलेक्शन, आरटी-पीसीआर, एंटीजन रैपिड टेस्ट, आईसीयू मैनेजमेंट, क्वारेन्टाइन, होम आइसोलेशन, डेड बॉडी का दाह संस्कार, सोशल डिस्टेसिंग, एन-95 मास्क, पीपीई किट, उपचार और टीकाकरण शामिल किया गया हैं। छात्रों को पूरे कोर्स के दौरान कुल 80 घंटे की पढ़ाई इस पर करनी होगी। कम्यूनिटी मेडिसिन, फार्माकोलॉजी व माइक्रोबायलाजी आदि विभागों के जिम्मे इस कोर्स की पढ़ाई होगी।


Share