आतंकियों के पास मिले काशी-मथुरा के नक्शे- 3000 रू में तैयार किया प्रेशर कुकर बम

कश्मीर : भाजपा नेता समेत 3 को आतंकियों ने गोली मारी
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। रविवार को लखनऊ में जिन दो आंतकियों को गिरफ्तार किया गया था इनके पास से उत्तर प्रदेश के कई शहरों के नक्शे मिले हैं। एटीएस सूत्रों के मुताबिक अलकायदा समर्थित ये आतंकी किसी बड़े हमले की प्लानिंग कर रहे थे। खबरों के मुताबिक इन आतंकियों ने किसी वेबसाइट को देखकर बम बनना सीखा था। अलकायदा के दोनों संदिग्धों ने पूछताछ में बताया है कि इन सबने सिर्फ 3000 रूपये में प्रेशर कुकर बम तैयार किया था।

सूत्रों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश एटीएस को एक माड्यूल भी हाथ लगा है। इसका नाम है- डू इट यूअरसेल्फ (डीआईवाय) यानी खुद से अपने काम करो। गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकी इसी डीआईवाय मॉड्यूल पर ही काम कर रहे थे। कहा जा रहा है कि इन दोनों ने अपने पैसों से ई रिक्शा में लगने वाली बैटरी के जरिये बम बनाने की कोशिश की थी।

3000 रू. में बम

सूत्रों ने बताया कि ये दोनों आतंकी इंटरनेट के जरिए अलकायदा के संपर्क में आये थे। दोनों उमर अल मदनी से लगातार बातें कर रहे थे। उसी के कहने पर उन्होंने बम भी बनाए थे। बम बनाने में इन्हें कामयाबी भी मिल गई थी। कहा जा रहा है कि बम तैयार करने के बाद ये आतंकी टारगेट की तलाश में थे। यानी कब और कहां हमला करना है। सुरक्षा एजेंसियों ने एक बड़ा खतरा टाल दिया। अगर प्रेशर कुकर बम कहीं भीड़ भाड़ वाली जगह पर रखने में ये कामयाब हो जाते तो बहुत बड़ी घटना हो सकती थी। पकड़ा गया नसीरूद्दीन उर्फ मुशीर रिक्शा की बैटरी से बम बना रहा था।

निशाने पर थे कई शहर

एटीएस से जुड़े सूत्रों ने बताया कि काशी और मथुरा के भी धार्मिक स्थलों के नक्शे एटीएस को आतंकियों के पास से मिले हैं। इन नक्शों में अलग-अलग पॉइंट से चिह्नित किया गया है। गोरखपुर के भी एक इलाके का डिटेल आतंकियों के पास से यूपी एटीएस ने बरामद किया है। साथ ही प्रदेश के कई बड़े शहरों के सार्वजनिक और धार्मिक स्थलों की डिटेल भी गिरफ्तार आतंकियों के पास से मिली हैं। एटीएस पिछले 24 घंटों में 1 दर्जन से अधिक संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।


Share