केंद्रीय मंत्री के बेटे सहित कई विधायकों के काटे टिकट

केंद्रीय मंत्री के बेटे सहित कई विधायकों के काटे टिकट
Share

पटना (एजेंसी)। बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने दूसरे चरण के प्रत्याशियों के नाम की घोषणा रविवार को कर दी। दूसरे दौर में पार्टी ने युवाओं पर सर्वाधिक भरोसा जताया है। चनपटिया के विधायक प्रकाश राय, अमनौर के शत्रुघ्न तिवारी उर्फ चोकर बाबा और सिवान के व्यासदेव प्रसाद की छुट्टी हो गई है। साथ ही केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे के बेटे का भी टिकट कट गया है। वहीं पटना शहर की सभी 5 विधानसभा में भाजपा ने अपने विधायकों पर फिर से भरोसा जताया है।

94 विधानसभा क्षेत्रों में 3 नवंबर को मतदान

दूसरे चरण में 94 विधानसभा क्षेत्रों में 3 नवंबर को मतदान होना है। राजग में समझौते के तहत उनमें से 46 सीटों पर भाजपा के उम्मीदवार हैं। दूसरे चरण में पार्टी ने सिर्फ 2 महिलाओं को टिकट दिया है। उनमें से एक आशा सिन्हा दानापुर से विधायक हैं। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष की कुर्सी गंवाने वाली रेणु देवी को इस बार भी बेतिया से किस्मत आजमाएंगी। 2015 में वे कांग्रेस के मदन मोहन तिवारी से मात खा गई थीं। पूर्व सांसद ओमप्रकाश इस बार विधानसभा पहुंचने के लिए सिवान में अपनी किस्मत आजमाएंगे। दूसरे चरण के बाद अब पार्टी को तीसरे चरण के 36 उम्मीदवारों की घोषणा करनी है।

उम्रदराज और अनुभवी दिग्गजों पर दांव

राजधानी पटना के सभी सिटिंग विधायक अपने इलाके में इस बार भी दांव आजमाएंगे। उनमें कुम्हरार के विधायक अरूण कुमार सिन्हा और पटना साहिब के विधायक व राज्य सरकार में मंत्री नंदकिशोर यादव सर्वाधिक उम्रदराज हैं। 73 वर्ष की उम्र वाले छपरा के विधायक डा. सीएन गुप्ता पर भी पार्टी ने एक बार फिर से भरोसा जताया है। दरौंदा सीट पर बाहुबली अजय सिंह को पटकनी देने वाले कर्णजीत सिंह उर्फ व्यास सिंह भी पर पार्टी ने दूसरी बार भरोसा जताया है। बेगूसराय सीट पर भाजपा ने कांग्रेस की मौजूदा विधायक अमिता भूषण के खिलाफ महापौर पुत्र व पार्टी के क्रीड़ा प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश संयोजक कुंदन सिंह को टिकट दिया है।


Share