BCCI के सालाना कॉन्ट्रैक्ट में कई फेरबदल- रहाणे, पुजारा और हार्दिक का डिमोशन, विराट और रोहित को पहले की तरह ए+ ग्रेड में रखा

BCCI के सालाना कॉन्ट्रैक्ट में कई फेरबदल- रहाणे, पुजारा और हार्दिक का डिमोशन, विराट और रोहित को पहले की तरह ए+ ग्रेड में रखा
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)।  भारतीय टेस्ट टीम से बाहर हो चुके मिडिल ऑर्डर बैट्समैन अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा को बीसीसीआई के सालाना कॉन्ट्रैक्ट में भी डिमोशन झेलनी पड़ी है। इनके साथ-साथ ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को भी झटका लगा है। पहले इन तीनों खिलाडिय़ों को ग्रेड ए कॉन्ट्रैक्ट मिला हुआ था। अब रहाणे और पुजारा ग्रेड बी में आ गए हैं। वहीं, पंड्या को ग्रेड सी में रखा गया है। विकेटकीपर बैट्समैन ऋद्धिमान साहा को ग्रेड बी से डिमोट कर ग्रेड सी में रख दिया गया है। पिछले साल कॉन्ट्रैक्ट में 28 खिलाडिय़ों को शामिल किया गया था। हालांकि इस बार सिर्फ 27 खिलाडिय़ों को कॉन्ट्रैक्ट दिया गया है।

बीसीसीआई कॉन्ट्रैक्ट की चार कैटेगरी

मौजूदा समय में बीसीसीआई कॉन्ट्रैक्ट की चार कैटेगरी है। सबसे ऊंची कैटेगरी ए+ है। इसमें शामिल खिलाडिय़ों को 7-7 करोड़ रुपए मिलते हैं। ए कैटेगरी के खिलाडिय़ों को 5-5 करोड़ रुपए दिए जाते हैं। ग्रेड बी में 3 करोड़ और ग्रेड सी में 1 करोड़ रुपए मिलते हैं। खिलाडिय़ों की फॉर्म और टीम इंडिया को उनकी जरूरत के लिहाज से ग्रेड तय किए जाते हैं।

रोहित, विराट और बुमराह को ए+ ग्रेड

कप्तान रोहित शर्मा, पूर्व कप्तान विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह ए+ ग्रेड में शामिल हैं। वहीं, ग्रेड-ए में रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, केएल राहुल, मोहम्मद शमी और ऋषभ पंत शामिल हैं। पिछले साल ग्रेड ए में 10 खिलाड़ी थे। इस बार ए ग्रेड में 5 खिलाड़ी ही रखे गए हैं।

जानिए किसे फायदा और किसे नुकसान

  •   पुजारा, रहाणे, पंड्या और साहा के अलावा गेंदबाज ईशांत शर्मा को ग्रेड ए से ग्रेड बी में भेज दिया गया है।
  •   कुलदीप यादव और नवदीप सैनी को कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया गया है। पहले ये ग्रेड सी में थे।
  •   मयंक अग्रवाल को ग्रुप बी से सी में डिमोट किया गया है।
  •  सिराज को ग्रुप सी से ग्रुप बी में प्रमोट किया गया है।
  •   सूर्यकुमार यादव पहली बार कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में शामिल हुए हैं। उन्हें ग्रेड सी में रखा गया है।

आउट ऑफ फॉर्म हैं पुजारा और रहाणे

चेतेश्वर पुजारा ने साल 2021 से अब तक 16 टेस्ट मैचों में सिर्फ 810 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 27.93 का रहा और इसमें एक भी शतकीय पारी नहीं है। रहाणे का भी यही हाल रहा है। उन्होंने 2021 से अब तक 15 टेस्ट मैचों में 20.25 की औसत से 547 रन बनाए हैं। उनके नाम भी इस दौरान कोई शतक नहीं है।

फिटनेस और फॉर्म दोनों से जूझ रहे हैं पंड्या

हार्दिक पंड्या पीठ की चोट से उबरने के बाद गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं। टीम इंडिया में वे बतौर ऑलराउंडर खेलते थे, लेकिन सिर्फ बल्लेबाज के तौर पर उन्हें जगह नहीं मिल रही है। पंड्या ने कहा है कि वे आईपीएल के अगले सीजन में गेंदबाजी करने की कोशिश करेंगे।

महिला खिलाडिय़ों में दीप्ति और राजेश्वरी प्रमोट

महिलाओं में दीप्ति शर्मा और राजेश्वरी गायकवाड को प्रमोट किया गया है। इन दोनों को ग्रेड बी से ग्रेड ए में भेजा गया है। ग्रेड ए में पहले से ही तीन खिलाड़ी थे। इसमें हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना और पूनम यादव शामिल हैं। मिताली राज और झूलन गोस्वामी ग्रुप बी में हैं। जेमिमा रॉड्रिग्स को ग्रेड बी से ग्रेड सी में डिमोट किया गया है। महिलाओं में ग्रेड ए में मौजूद खिलाडिय़ों को सालाना 50 लाख, ग्रेड बी को 30 लाख और ग्रेड सी को 10 लाख रूपए सालाना मिलते हैं।


Share