अस्पताल से ममता ने जारी किया वीडियो, कहा- ‘हमले में मुझे गंभीर चोटें लगी

अस्पताल से ममता ने जारी किया वीडियो, कहा- 'हमले में मुझे गंभीर चोटें लगी
Share

कोलकाता (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान एक कथित हमले में घायल होने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का अस्पताल के बेड से ही वीडियो सामने आया है। ममता बनर्जी का यह वीडियो उनकी पार्टी टीएमसी के ट्विटर अकाउंट पर जारी किया गया है। इस वीडियो में ममता ने अपने कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील की है। यही नहीं उन्होंने कहा कि चोट लगने के बाद भी उनका काम बाधित नहीं होगा और वह पैर में चोट लगने की वजह से व्हीलचेयर पर बैठकर प्रचार करेंगी। उन्होने कहा कि अभी मुझे कुछ दिनों तक व्हीलचेयर पर रहना होगा। इसके बाद भी मैं चुनाव में बाधा नहीं आने दूंगी और व्हीलचेयर पर ही प्रचार करूंगी।

मुख्यमंत्री ने वीडियो में कहा, मुझे अपने अगले दो से तीन दिनों में जमीन पर वापस लौटने की उम्मीद है। चोट फिर भी बरकरार रह सकती है, लेकिन मैं मैनेज कर लूंगी। मैं एक भी मीटिंग ड्रॉप नहीं करूंगी। हो सकता है कि कुछ दिनों के लिए मुझे व्हीलचेयर की मदद लेनी पड़े। मैं आपका सपोर्ट चाहती हूं। नंदीग्राम  (शेष पृष्ठ ८ पर)

सीट पर एक अप्रैल को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे। ममता बनर्जी के सामने उनके ही पुराने सहयोगी शुभेंदु अधिकारी होंगे।

अस्पताल के बिस्तर से वीडियो जारी करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं सभी से शांत रहने और संयम दिखाने का आग्रह कर रही हूं। कुछ भी ऐसा न करें, जिससे लोगों को तकलीफ हो। वीडियो जारी किए जाने से पहले बंगाल में कई जगह टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ताओं के आमने-सामने आने की भी जानकारी सामने आई थी। टीएमसी कार्यकर्ताओं ने कई जगह विरोध प्रदर्शन भी किया।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार को नंदीग्राम में चुनाव प्रचार करने के दौरान घायल हो गई थीं। उन्होंने आरोप लगाया था कि चार-पांच लोगों ने उन्हें धक्का दिया, जिसके कारण वह जमीन पर गिर गईं और उनके बांए पैर, कमर, कंधे और गर्दन में चोट आई है। इसके बाद मुख्यमंत्री को कोलकाता ले जाया गया, जहां के एसएसकेएम अस्पताल में डॉक्टरों की एक टीम उनका इलाज कर रही है। डॉक्टरों ने बताया है कि मुख्यमंत्री के बायें पैर के टखने तथा पांव की हड्डियों में गंभीर चोट आई हैं और उनके दायें कंधे, हाथ तथा गले पर भी चोट लगी है और उनका इलाज चल रहा है।

इस वीडियो में ममता बनर्जी ने कहा कि यह सच है कि मुझे पैर की हड्डी और लिगामेंट की चोट लगी है। घटना के बाद मुझे सीने और सिर में भी दर्द था। मैं कार में खड़ी थी और लोगों का अभिवादन स्वीकार कर रही थी। मुझ पर इतना दबाव आया कि मैं चोटिल हो गई। मेरे पास उस समय जो भी दवाई थीं, मैंने उसे लिया और फिर कोलकाता आ गई।

हालांकि, भाजपा का दावा है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लोगों की सहानुभूति बटोरने के लिए नाटक कर रही हैं। साथ ही, भाजपा ने मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग की। बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि इस बात की जांच कराई जाने की जरूरत है कि वास्तव में हुआ क्या था। कैसे जेड-प्लस सुरक्षा प्राप्त व्यक्ति पर हमला हुआ, यह जांच का विषय है। सच्चाई सामने लाने के लिए राज्य को मामले की सीबीआई जांच के आदेश देने चाहिए।

‘हमले’ के बाद टला मेनिफेस्टो जारी करने का प्रोग्राम

ममता बनर्जी पर कथित हमले के बाद तृणमूल कांग्रेस ने राज्य में आगामी चुनाव के लिए अपना मेनिफेस्टो जारी करने का कार्यक्रम टाल दिया। पार्टी अध्यक्ष बनर्जी द्वारा कालीघाट में अपने आवास पर गुरूवार दोपहर को घोषणापत्र जारी करने का कार्यक्रम था। तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि घोषणापत्र जारी करने के कार्यक्रम को कुछ समय के लिए टाल दिया गया है। ममता बनर्जी के ठीक होने और घर वापस आने के बाद इसे जारी किया जाएगा। हमारा घोषणापत्र तैयार है, लेकिन मुख्यमंत्री की गैर-मौजूदगी में इसे जारी करने का सवाल ही नहीं उठता।


Share