बंगाल में 8 चरणों में चुनाव पर बिफरीं ममता ‘जो भाजपा ने कहा, चुनाव आयोग ने वही किया’

bihar election
Share

कोलकाता (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों की घोषणा हो चुकी है। राज्य की 294 सीटों वाली विधानसभा के लिए इस बार आठ चरणों में चुनाव होने हैं। कई जिलों में 2-3 चरणों में चुनाव कराए जा रहे हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सवाल उठाए हैं। ममता ने कहा कि ये सब तरीके काम नहीं आएंगे, बंगाल में बंगाली ही राज करेगा, हम भाजपा को हराएंगे।

ममता का आरोप, भाजपा ने चुनाव आयोग का इस्तेमाल किया

भाजपा ने चुनाव आयोग का इस्तेमाल किया है। भाजपा पूरे देश को बांट रही है और यही कोशिश वह पश्चिम बंगाल में भी करेगी। गृहमंत्री व प्र.म. ताकत का दुरूपयोग न करें। आखिर बंगाल में 8 चरणों में चुनाव क्यों कराए जा रहे हैं? जो भाजपा ने कहा, चुनाव आयोग ने किया। एक जिले में 2-3 चरणों में चुनाव क्यों?

ममता बोलीं, चुनाव आयोग रोके पैसे का दुरूपयोग

ममता ने कहा कि केंद्र अपनी ताकतों का इस तरह दुरूपयोग नहीं कर सकता। अगर केंद्र सरकार इस तरह अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल करेगी तो यह बड़ी भूल होगी, उन्हें इसका अंजाम भुगतना होगा। हम आम लोग हैं और अपनी लड़ाई लड़ेंगे। मैं चुनाव आयोग से अपील करती हूं कि वह पैसे के दुरूपयोग को रोके, भाजपा ने एजेंसियों के जरिए जिलों में पैसे भेजे हैं।

भाजपा बोली, हिंसा न हो इसलिए उठाया गया ऐसा कदम

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन राठौर ने कहा, सुरक्षा के मद्देनजर इतने चरणों में चुनाव हो रहा है। मेरा मानना है कि यह अब तक के इतिहास का राज्य में सबसे हिंसक चुनाव हो सकता है। केंद्र सरकार की योजनाओं पर चुनाव होने दीजिए, जनता तय कर ले कि वह किसे पसंद करती है।

सीपीआई ने भी उठाए सवाल, धु्रवीकरण की तैयारी में भाजपा

सीपीआई नेता दिनेश वार्ष्णेय ने कहा, राज्य में त्रिकोणीय मुकाबला है। भाजपा ने 8 चरणों में इसीलिए चुनाव कराए हैं, ताकि धु्रवीकरण किया जा सके। एक जगह की चुनावी रैली का अगले चरण में इस्तेमाल किया जा सके, इसीलिए ये किया गया है।


Share