अलवर के खेड़ली थाने में पीडि़ता से दुष्कर्म मामले में बड़ी कार्रवाई

अलवर के खेड़ली थाने में पीडि़ता से दुष्कर्म मामले में बड़ी कार्रवाई
Share

अलवर (कार्यालय संवाददाता)। जिले के खेड़ली थाने के अंदर महिला से दुष्कर्म मामले में चार पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है। खेड़ली थाने के आरोपी एसआई भरत सिंह, एसएचओ हनुमान सहाय और एचएम प्रकाशचंद्र को सस्पेंड कर दिया है। सीओ अशोक सिंह को पद से हटा दिया है। पीडि़ता ने रविवार को एसआई भरत सिंह के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद रविवार को ही रेंज आईजी हवा सिंह घूमरिया व एसपी तेजस्वनी गौतम भी थाने पहुंचे थे। पहले दिन रविवार को देर रात तक कार्रवाई जारी रही थी। दोषी को पहले दिन ही गिरफ्तार कर लिया था।

वर्दी को दागदार करने वाले गुनहगार

एसआई भरत सिंह : आरोपी ने दुष्कर्म किया

पीडि़त महिला ने अपने पति के खिलाफ शिकायत दी थी। इस मामले में एसआई भरत सिंह को जांच दी थी। इसने महिला से तीन दिन थाने में ही दुष्कर्म किया है। एसपी ने बताया कि मामला सामने आते ही एसआई को सस्पेंड कर दिया है। गिरफ्तारी पहले दिन हो चुकी है।

हनुमान सहाय : एसएचओ का सुपरविजन नहीं

एसएचओ हनुमान सहाय थाने का प्रभारी है। उसकी पूरे थाने के सुपरविजन की जिम्मेदारी होती है। थाने में अंदर महिला से दुष्कर्म होने की घटना सामने आने के बाद उसे भी सुपरविजन में गंभीर लापरवाही मिलने पर सस्पेंड कर दिया है।

एचएम प्रकाशचंद्र : परिवाद की तारीख ही बदल दी

थाने के एचएम प्रकाश चंद्र को पहले दिन ही सस्पेंड कर दिया था। प्रकाश चंद्र ने परिवाद की तारीख में छेड़छाड़ की। प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला ने परिवाद चार तारीख को दिया और जिसे कटिंग कर पांच कर दिया। इस कारण उसे तुरंत सस्पेंड करना पड़ा।

सीओ अशोक : इनकी भी मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी, इसी कारण पद से हटाया

खेड़ली थाना लक्ष्मणगढ़ क्षेत्र में आता है। इस कार लक्ष्मणगढ़ सीओ की भी मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी होती है। घटना के दिन भी रेंज आई व एसपी मौके पर पहुंचे। उस दौरान भी उनकी लापरवाही मिली है। इस कारण उनको लाइन हाजिर किया गया है।


Share