आखिरी ओवर में 15 रन नहीं बना सकी लखनऊ 3 रनों से जीत टॉप पर पहुंचे रॉयल्स, डेब्यू स्टार कुलदीप बने राजस्थान की रोमांचक जीत के हीरो

Lucknow could not score 15 runs in the last over, Royals reached the top, winning by 3 runs, debut star Kuldeep became the hero of Rajasthan's thrilling victory
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल-2022 के रोमांचक मुकाबले में लखनऊ सुपर जायंट्स को 3 रन से हरा दिया। उसकी जीत के हीरो रहे डेब्यू स्टार कुलदीप सेन, जिन्होंने आखिरी ओवर में मार्कस स्टॉयनिस के स्ट्राइक पर रहते हुए 15 रनों को डिफेंड किया। मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान रॉयल्स ने 6 विकेट पर 156 रन बनाए। जवाब में लखनऊ सुपर जायंट्स की टीम निरंतर अंतराल पर विकेट गंवाती रही और आखिरी ओवर में उसे 15 रन बनाने थे, लेकिन मार्कस स्टॉयनिस राहुल तेवतिया वाला कमाल नहीं कर सके। इस जीत के साथ राजस्थान पॉइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच गया है।

आखिरी ओवर का रोमांच, छाए कुलदीप सेन

आखिरी ओवर में लखनऊ को जीत के लिए 15 रनों की जरूरत थी। राजस्थान रॉयल्स ने डेब्यू स्टार कुलदीप सेन को मैच बचाने की बड़ी जिम्मेदारी दी। ओवर की पहली गेंद पर आवेश खान ने सिंगल लेकर मार्कस स्टॉयनिस को स्ट्राइक पर ला दिया, जिन्होंने 19वें ओवर में प्रसिद्ध कृष्णा को दो छक्के और एक चौका जड़ा था। दूसरी, तीसरी और चौथी गेंद पर रन नहीं बना। स्टॉयनिस ने 5वीं गेंद पर चौका और आखिरी गेंद पर छक्का जरूर जड़ा, लेकिन वह टीम को जीत तक नहीं पहुंचा सके। इससे शिमरन हेटमायर की नाबाद 59 रन की पारी और रविचंद्रन अश्विन (28) के साथ पांचवें विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी के दम पर राजस्थान रॉयल्स ने बीच के ओवरों में लडख़ड़ाने के बाद लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ 6 विकेट पर 165 रन बनाये। हेटमायर ने कृष्णप्पा गौतम की गेंद पर क्रूणाल पंड्या द्वारा आसान कैच टपकाये जाने का पूरा फायदा उठाते हुए 36 गेंद की नाबाद पारी में छह छक्के और एक चौका जड़ा। राजस्थान की टीम ने आखिरी तीन ओवरों में 50 रन जोड़े। पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने के बाद देवदत्त पडिक्कल ने शुरूआती ओवर में दुष्मंता चमीरा (चार ओवर में बिना सफलता के 22 रन) के खिलाफ चौका लगाया तो वही शानदार लय में चल रहे जोस बटलर (13) ने जेसन होल्डर (48 रन पर दो विकेट) के खिलाफ छक्का और फिर चौका लगाकर अपना खाता खोला । पडिक्कल ने चौथे ओवर में रवि बिश्नोई का स्वागत लगातार दो चौके से किया लेकिन टीम पावर प्ले के आखिरी दो ओवरों में सिर्फ पांच रन जुटा सकी और इस दौरान आवेश खान (31 रन पर एक विकेट) ने बटलर को बोल्ड कर लखनऊ को पहली सफलता दिलायी। कप्तान संजू सैमसन (13) ने बिश्नोई और आवेश के खिलाफ चौके जड़े लेकिन रन गति को बढ़ाने के प्रयास में नौवें ओवर में होल्डर की गेंद पर पगबाधा हो गये। अगले ओवर में कृष्णप्पा गौतम (30 रन पर दो विकेट) ने राजस्थान की टीम को दोहरा झटका दिया। उन्होंने अब तक एक छोर संभाले रखने वाले पडिक्कल को होल्डर के हाथों कैच कराकर पवेलियन भेजने के बाद रासी वान दर डुसें (04) को बोल्ड किया। पडिक्कल ने चार चौकों की मदद से 29 गेंद में इतने ही रन बनाये। राजस्थान की टीम 11 गेंद और सात रन के अंदर तीन विकेट गंवाने के बाद दबाव में आ गई।

शिमरन हेटमायर और रविचंद्रन अश्विन की जोड़ी अगले पांच ओवर में संभलकर खेलते हुए सिर्फ 25 रन बनाये, जिसमें हेटमायर का कृष्णप्पा के खिलाफ लगाया गया शानदार छक्का शामिल था। अश्विन ने 16वें ओवर की शुरूआती दो गेंदों पर कृष्णप्पा के खिलाफ दो छक्के जड़कर टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया। इस ओवर से 16 रन बने। हेटमायर ने 18वें ओवर में होल्डर के खिलाफ छक्का जड़कर अश्विन के साथ पांचवें विकेट के लिए 7.3 ओवर में 50 रन की साझेदारी पूरी करने के बाद एक और छक्का जड़कर रन गति को तेज किया। अगले ओवर की दूसरी गेंद के बाद अश्विन रिटायर आउट हो कर पवेलियन लौट गये ।

हेटमायर ने आवेश खान के इस ओवर में लगातार दो छक्के लगाकर 33 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। आखिरी ओवर में गेंदबाजी के लिये आये होल्डर के खिलाफ हेटमायर और रियान पराग ने छक्के जड़ कर टीम के स्कोर को 160 के पार पहुंचाया। पराग चार गेंद पर आठ रन बनाकर कैच आउट हुए।


Share