कानोड़ में सवा करोड़ की लूट

कानोड़ में सवा करोड़ की लूट
Share

कानोड़   (प्रात:काल संवाददाता)। जिले के कानोड़ नगर में मुख्य मार्ग व सामुदायिक चिकित्सालय के सामने मकान में लुटेरों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम देते हुए सोमवार रात को 16  लाख की नगदी, सवा क्विंटल चांदी व डेढ़ किलो सोने के आभूषण लूट ले गए। बुजुर्ग घर में अकेला रहता था जिसको लुटेरों ने बंधक बना लिया और मुंह पर टेपरोल लगाकर पटक दिया।

घटना रात करीब दो बजे बाद की बताई जा रही है। 84 साल के सोहनलाल कोठारी पुत्र मेघराज के घर में चोर पिछवाड़े से दाखिल हुए और सोहन लाल के साथ मारपीट कर उसको पलंग पर रस्सी से बांधकर मुंह में टेपरोल लगा दिया। इसके बाद बुजुर्ग पर बिस्तर डाल दिए। बाद में लुटेरों ने घर के एक-एक कमरे में अलमारियों सहित लॉकर के लॉक को तोड़कर उसमें रखे 16 लाख रूपए नगद, 125 किलो चांदी, एक किलो चार सौ ग्राम सोने के जेवरात व कीमती सामग्री लूट ले गए। प्रात: करीब पांच बजे मोर्निंग वॉक पर निकले सुनिल शर्मा व दिलिप अग्रवाल को घर में रोने की आवाज सुनाई दी और घर का मुख्य दरवाजा भी खुला होने से वे अंदर गए तो सोहनलाल घायल अवस्था में पड़ा था और उसके हाथ पैर बंधे हुए और मुंह पर टेप चिपका रखी थी।  पलंग पर तड़प रहे बुजुर्ग को खोलते हुए घटना की जानकारी पालिका उपाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह बाबेल को दी जिन्होंने पुलिस को सूचित किया। जानकारी पाते ही कानोड़ में ही रहने वाली पुत्री ने अपने पिता को संभाला जिसके बाद पुत्र पहुंचा। जानकारी पाते ही सीआई तेज सिंह सांदू मय जाब्ता मौके पर पहुंचे व मुआयना करते हुए कुछ लोगों को पूछताछ के लिए थाने बुलाया है। जानकारी के बाद पुलिस अधीक्षक कैलाश विश्रोई के निर्देशन में एडीशनल एसपी ग्रामीण मुकेश सांखला, वल्लभनगर डिप्टी हितेश मेहता, सीआई भरत योगी, भीण्डर थानाधिकारी देवेन्द्र सिंह देवल भी घटनास्थल पर पहुंचे व बुजूर्ग के बयान कलमबद्ध करते हुए नगर की दुकानों पर लगे सीसीटीवी खंगाले। एफएसएल टीम ने जांच नमूने लेकर तहकीकात शुरू की। डॉग स्क्वायड टीम ने भी घटना स्थल का मौका मुआयना कर जांच के हर पहलू को खंगाला।

शिक्षक रह चुका बुजुर्ग ब्याज पर देता है रुपए

लोगों ने बताया कि बुजुर्ग सोहन लाल शिक्षक रह चुका है। ब्याज पर रुपयों का लेन देन करने के चलते नगर में धन्ना सेठ के नाम से विख्यात है। लोगों के जेवर गिरवी रखकर ब्याज पर पैसा देता है। घटना के बाद शहर में दशहत का माहौल बना हुआ है।

करोड़ों सम्पत्ती के मालिक के पास बाइक तक नहीं

कंजूस घर सें लुटेरे करोड़ों के माल पर हाथ साफ कर गए उनके मालिक पिडि़त धन्ना सेठ सोहन लाल कोठारी के पास एक बाईक तक नहीं है। बुजुर्ग पैसों की उगाई के लिए भी पैदल या फिर किसी के सहयोग लेकर जाया करता था। पीडि़त के पास साधन सुविधाओं के अभाव के साथ घर में आवश्यक सामग्री तक पर्याप्त नहीं है।


Share