लंदन ने भारत को सौंपी मंदिर से चुराई मूर्तियां

लंदन ने भारत को सौंपी मंदिर से चुराई मूर्तियां
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। तमिलनाडु के एक मंदिर से दशकों पहले चुराई गई भगवान राम, लक्ष्मण और सीता की मूर्तियों को मंगलवार को भारत सरकार को वापस दे दिया गया। प्रतिमाओं के वास्तविक इतिहास और महत्व को जानने के बाद एक संग्रहकर्ता ने खुद इन मूर्तियों को लौटाने की पेशकश की थी। इन मूर्तियों की चोरी 1978 में हुई थी, जिसके बाद तमिलनाडु पुलिस ने लंदन की मैट्रोपोलिटन पुलिस के साथ मिलकर जांच शुरू की थी।

एक अनाम संग्रहकर्ता ने मूर्तियों को खरीदा था, जिसे मैट्रोपोलिटन पुलिस ने घटना की जानकारी दी। सन् 1950 में खींचे गए प्रतिमाओं के चित्रों से मिलान करने के बाद पाया गया कि ये विजयनगर काल की वही मूर्तियां हैं जिन्हें तमिलनाडु के नागपट्टिनम जिले के अनंतमंगलम में स्थित श्री राजगोपालस्वामी मंदिर से चुराया गया था।

लंदन में इंडिया हाऊस में आयोजित एक समारोह में कोविड-19 के चलते सीमित संख्या में अतिथियों को बुलाया गया। समारोह में लंदन स्थित श्री मुरूगन मंदिर के पुजारियों ने मूर्तियों की संक्षिप्त पूजा-अर्चना की और इसके बाद उन्हें भारत को सौंप दिया गया। ब्रिटेन में भारत की उच्चायुक्त गायत्री इस्सर कुमार ने कहा कि आज इन सुंदर प्रतिमाओं की खोज पूरी हुई। हम यह सुनिश्चित करना चाहते थे कि इन मूर्तियों को भारत भेजने से पहले इनके साथ आदरपूर्वक व्यवहार किया जाए।


Share