प्रदेश में वर्षा की कमी- एक दर्जन जिलों में सूखे के आसार- उदयपुर में सामान्य से 46% कम वर्षा

बदला मौसम : राजस्थान के कई जिलों में बारिश
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान में इस बार औसत सामान्य वर्षा होने के बावजूद करीब एक दर्जन जिलों में बारिश की कमी के कारण सूखे के आसार नजर आने लगे हैं।

जल संसाधन विभाग के अनुसार राज्य में अब तक सामान्य वर्षा 430.19 मिमी की तुलना में 377.96 मिमी बरसात हुई। हालांकि सामान्य वर्षा के आंकड़े से 12.1 प्रतिशत कम है लेकिन सामान्य से 19 प्रतिशत कम या जयादा वर्षा सामान्य बारिश की श्रेणी में मानी जाती है। राज्य में सबसे ज्यादा बरसात की कमी एवं सूखे के आसार सिरोही जिले में नजर आ रहे हैं जहां सामान्य वर्षा 685.50 मिमी की जगह अब तक केवल 241 मिमी बरसात हुई है जो सामान्य से 64.8 प्रतिशत कम है। इसी तरह जालौर जिले में सामान्य वर्षा 320.30 मिमी की जगह मात्र 125.70 मिमी बरसात हुई है जो सामान्य से 60.8 प्रतिशत कम है। प्रदेश में सिरोही एवं जालौर जिले ऐसे हैं जहां अब तक केवल अल्प वर्षा ही हुई है।

प्रदेश में 5 जिले ऐसे हैं जहां सामान्य से पचास प्रतिशत से अधिक बरसात की कमी हैं उनमें सिरोही एवं जालौर के अलावा गंगानगर में 160.30 मिमी की जगह 72.96 मिमी बारिश हुई जो सामान्य से 56.9 प्रतिशत कम, बाड़मेर में 208.60 मिमी की जगह 98.53 मिमी वर्षा हुई जो सामान्य से 52.8 प्रतिशत तथा डूंगरपुर जिले में 510.90 मिमी वर्षा की जगह अब तक 254.67 मिमी बरसात हुई जो सामान्य से 50.2 प्रतिशत कम हैं।

इसके अलावा उदयपुर में 46.1, जोधपुर में 42.8, राजसमंद में 40.9, पाली में 39, बांसवाड़ा में 34.6, भीलवाड़ा में 32.6,  झुंझुनूं में 30.4 तथा चित्तौडग़ढ़ जिले में सामान्य से 23.2 प्रतिशत बरसात की कमी हैं।

राज्य में एक मात्र बारां जिला ऐसा हैं जो इस समय असामान्य वर्षा की श्रेणी में हैं। बारां में सामान्य वर्षा 639.20 मिमी की जगह 1044.38 मिमी बारिश हो चुकी है जो सामान्य से 63.4 प्रतिशत अधिक है। इससे पहले कोटा संभाग में कोटा, बूंदी, झालावाड़ और सवाईमाधोपुर जिले भी असामान्य वर्षा की श्रेणी में आ गये थे लेकिन मानसून फीका पड़ जाने के बाद अब केवल बारां जिला ही इस श्रेणी में बचा है। विभाग के अनुसार प्रदेश में 15 जिलों अजमेर, अलवर, भरतपुर, बीकानेर, चुरू, दौसा, धौलपुर, हनुमानगढ़, जयपुर, जैसलमेर, करोली, नागौर, प्रतापगढ़, सीकर एवं टोक जिले में अब तक सामान्य वर्षा हुई हैं जबकि 4 जिलों कोटा, बूंदी, झालावाड़ एवं सवाईमाधोपुर में अब तक सामान्य से अधिक बरसात हो चुकी है। उल्लेखनीय है कि गत वर्ष इस दौरान 8 जिलों में बरसात की कमी बनी हुई थी जबकि 23 जिलों में सामान्य एवं केवल दो जिलों में सामान्य से अधिक वर्षा दर्ज हुई थी।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले भारी वर्षा होने से कोटा संभाग के चारों जिले कोटा, बारां, बूंदी एवं झालावाड़ में अतिवृष्टि से लाखों हेक्टेयर में फसल नुकसान एवं कई लोगों की मौत भी हुई। राज्य में मानसून के आने के दो-तीन दिन बाद ही फीका पड़ गया जो करीब एक महीने बाद सक्रिय हुआ अच्छी बरसात हुई लेकिन सप्ताहभर पहले फिर कमजोर पड़ जाने से राज्य के पश्चिम भाग के जिलों में बरसात की भारी कमी बन गई।


Share