रोमांचक मैच में कोलकाता को 3 विकेट हरा बैंगलोर ने दर्ज की पहली जीत, 129 रनों का मामूली लक्ष्य भी आखिरी ओवर में हासिल किया, कोलकाता की भी बल्लेबाजी फेल

Kolkata beat Kolkata by 3 wickets in a thrilling match, Bangalore registered its first victory, achieved even a modest target of 129 runs in the last over, Kolkata's batting also failed.
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन के छठे मुकाबले में रायल चैलेंजर्स बैंगलोर का सामना कोलकाता नाइटराइजर्स से हुआ। बैंगलोर के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया। बैंगलोर की घातक गेंदबाजी के आगे कोलकाता की पूरी टीम महज 128 रन पर सिमट गई। आखिरी ओवर तक चले मुकाबले में बैंगलोर ने 19.2 ओवर में जीत का लक्ष्य 7 विकेट के नुकसान पर हासिल किया। दिनेश कार्तिक ने आखिरी ओवर में एक छक्का और चौका लगाते हुए टीम को जीत दिलाई। यह बैंगलोर की पहली जीत है जबकि कोलकाता की पहली हार ।

बैंगलोर की रोमांचक जीत: छोटे स्कोर का पीछा करने उतरी बैंगलोर के लिए पारी की शुरुआत कप्तान फाफ डु प्लेसिस के साथ अनुज रावत उतरे। उमेश यादव ने तीसरी ही गेंद पर रावत को शून्य पर विकेट के पीछे कैच करवा वापस भेज दिया। टिम साउदी ने बैंगलोर के कप्तान को 5 रन पर रहाणे के हाथों कैच करवा टीम को बड़ी विकेट दिलवाई। इसके ठीक बाद अगले ओवर की पहली गेंद पर उमेश यादव ने विराट कोहली को 12 रन पर विकेट के पीछे शिकार बनाया।

डेविड विली 18 रन बनाकर सुनील नरेन की गेंद पर नीतीश राणा द्वारा लपके गए। इसके बाद टीम को शाहबाज अहमद ने संभाला और कुछ अच्छे शाट्स लगाए। लेकिन वरुण चक्रवर्ती ने उनको लालच देकर 27 रन पर स्टंप करवाया। इसके बाद एक और बल्लेबाज रदरफोर्ड जो 28 रन बनाकर जमे हुए थे उनको टीम साउदी ने विकेट के पीछे कैच करवाया। वनिंदु हसरंगा को साउदी ने आंद्रे रसेल के हाथों 4 रन पर कैच करवाया।

कोलकाता की बल्लेबाजी फेल, 128 पर ढेर

पहले बल्लेबाजी करने उतरी कोलकाता के लिए अजिंक्य रहाणे और वेंकटेश अय्यर पारी की शुरुआत करने उतरे। 10 रन की छोटी पारी खेलने के बाद आकाश दीप के गेंद पर वेंकटेश अपना विकेट गंवा बैठे। मोम्मद सिराज ने अजिंक्य रहाणे को फंसा और बड़ा शाट खेलते हुए वह 9 रन पर बाउंड्री पर शाहबाज को कैच दे बैठे। नीतीश राणा 10 रन बनाकर दीप की गेंद पर आउट होकर वापस लौटे। कप्तान श्रेयस अय्यर महज 13 रन बनाकर हसारंगा की गेंद पर डु प्लेसिस को कैच दे बैठे।

लगातार विकेट गिरने के बाद सुनील नरेन से टीम को  उम्मीद थी लेकिन वह भी हसारंगा की गेंद पर 12 रन बनाने के बाद आकाशदीप को कैच दे बैठे। इसके बाद हसारंगा ने शेल्डन जैक्शन को बिना खाता खोले क्लीन बोल्ड कर दिया। टीम की उम्मीद सैम बिलिंग्स भी 14 रन बनाकर हर्षल पटेल के शिकार बन गए। 18 गेंद पर 25 रन बनाने के बाद आंद्रे रसेल हर्षल की गेंद पर विकेट के पीछे दिनेश कार्तिक को अपना कैच दे बैठे। हसारंगा ने 4 ओवर में 20 रन देकर 4 विकेट हासिल किए। आकाश ने 3.5 ओवर में 45 रन देकर 3 विकेट चटकाए। हर्षल ने दो जबकि मोहम्मद सिराज ने 1 बल्लेबाज को आउट किया।

बैंगलोर की टीम में इस मैच के लिए कोई बदलाव नहीं किया गया था जबकि कोलकाता ने शिवम मावी की जगह टिम साउदी को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया था।

विली ने दिलाई कपिल की याद

कोलकाता की पारी के छठे ओवर में डेविड विली ने शॉर्ट फाइन लेग से पीछे भागते हुए नीतीश राणा का शानदार कैच पकड़ा। विली से पहले इसी टूर्नामेंट के चौथे मैच में गुजरात टाइटन्स के शुभमन गिल ने भी लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ 31 मीटर पीछे भागते हुए लगभग ऐसा ही कैच पकड़ा था। विली और गिल के कैच को देखकर फैंस को कपिल देव के 1983 वर्ल्ड कप फाइनल में मैच बदलने वाला कैच लपकने का नजारा याद आ गया।


Share