कोहली कूकाबुरा गेंद को लेकर अंपायर से उलझे, लगभग 10 मिनट तक रूका रहा खेल

Kohli clashed with the umpire over the Kookaburra ball, the game was halted for about 10 minutes
Share

सेंचुरियन (एजेंसी)।  भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन एक अजीब वाकया देखने को मिला। साउथ अफ्रीका की टीम जब दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने आई तो कप्तान विराट कोहली के साथ पूरी टीम इंडिया ने खेल ही शुरू नहीं होने दिया। टीम इंडिया का कहना था कि उन्हें गेंदबाजी के लिए दी गई कूकाबुरा गेंद पुरानी है। इसके चलते लगभग 10 मिनट तक खेल रुका रहा। इस दौरान कोहली अंपायर से बहस करते हुए भी नजर आए।

इसके बाद मैदान पर नई गेंद का बॉक्स दोबारा लाया गया और कप्तान कोहली ने रविचंद्रन अश्विन के साथ मिलकर हर बॉल को अच्छी तरह से परखा। इसके बाद उन्होंने गेंदबाजी के लिए एक गेंद चुनकर अपनी टीम को दी और मैच में खेल आगे शुरू हुआ।

वहीं, कमेंटेटर व पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर का कहना था कि हर गेंद के रंग और बैलेंस में फर्क हो सकता है। इसलिए भारतीय टीम नई गेंद चाह रही थी। उन्होंने बताया कि हमारे समय में कपिल देव खुद गेंद का चुनाव करते थे। वहीं, पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज अजीत अगरकर ने बताया कि मैं जब खेलता था तो सचिन तेंदुलकर और हरभजन सिंह गेंद बॉक्स से निकालते थे।

किन देशों में इस्तेमाल होती है कूकाबुरा बॉल?

कूकाबुरा बॉल ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका, न्यूजीलैंड, श्रीलंका, बांग्लादेश, जिम्बाब्वे और अफगानिस्तान अपने यहां खेले जाने वाले टेस्ट मैच के लिए इस्तेमाल करते हैं। ये ऑस्ट्रेलिया में बनाई जाती है। इसकी सिलाई मशीन से होती है। इसकी सीम दबी हुई होती है। शुरुआती 20 से 30 ओवर तक ये गेंद तेज गेंदबाजी के लिए बेहतर होती है। इसके बाद ये बल्लेबाजी के लिए बेहतर होती है। सीम दबी होने के कारण ये गेंद स्पिनरों के लिए अन्य बॉल की तुलना में कम मददगार होती है और सीमर को भी कम स्विंग मिलता है।


Share