विराट के खराब फॉर्म पर कपिल देव की दो टूक , ‘प्रदर्शन नहीं कर सकते तो लोगों से चुप रहने की उम्मीद न करें’

Kapil Dev bluntly on Virat's poor form, 'If you can't perform then don't expect people to remain silent'
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। पूर्व भारतीय कपिल देव ने विराट कोहली के खराब फॉर्म को लेकर बड़ी बात कही है। कपिल ने कहा कि एक पूर्व खिलाड़ी के रूप में उन्हें किसी खिलाड़ी के प्रदर्शन पर सवाल उठाने का अधिकार है, अगर उस प्रदर्शन अपने कद और रूतबे के मुताबिक नहीं है। कपिल अक्सर कोहली के खराब फॉर्म को लेकर खुलकर अपनी राय जाहिर करते हैं। इसे लेकर वो कई बार लोगों के निशाने पर भी आए हैं। लेकिन, इस पूर्व भारतीय ऑलराउंडर ने जोर देकर कहा कि अगर खिलाड़ी इंटरनेशनल लेवल पर रन नहीं बनाते हैं या वैसा प्रदर्शन नहीं करते हैं, जैसा कि उनसे उम्मीद की जाती है तो दूसरों को चुप कराना आसान नहीं होगा।

कपिल देव ने   कहा,  मैंने विराट कोहली जितनी क्रिकेट नहीं खेली है। लेकिन कभी-कभी आपने भले ही ज्यादा क्रिकेट नहीं खेली हो लेकिन, आप चीजों का पता लगा सकते। हमने भी क्रिकेट खेली है और खेल को समझते हैं। सुधार उन्हें अपने विचारों में करना होगा। अगर आप अपने खेल से हमें गलत साबित कर देंगे, तो हम इसे स्वीकार कर लेंगे। अगर आप रन नहीं बनाएंगे, तो हमें तो यही लगेगा कि कहीं न कहीं कुछ गड़बड़ है। हम सिर्फ एक चीज देखते हैं और वह है आपका प्रदर्शन और अगर यह ठीक नहीं है, तो लोगों से चुप रहने की उम्मीद बिल्कुल भी न करें। आपका बल्ला और आपका प्रदर्शन बोलना चाहिए, और कुछ नहीं।

कोहली का खराब फॉर्म चिंता बढ़ाने वाला: कपिल

पूर्व भारतीय कप्तान ने आगे कहा कि कोहली जैसे बड़े खिलाड़ी के इतने लंबे वक्त से शतक नहीं लगा पाने के बारे में सोचकर दुख होता है। कोहली ने पिछली बार नवंबर 2019 में शतक लगाया था। यानी उन्हें शतक लगाए हुए 2 साल से अधिक का वक्त हो चुका है। कपिल को लगता है कि कोहली का फॉर्म सिर्फ उनके लिए ही नहीं, बल्कि टीम इंडिया के लिए भी चिंता का विषय है।

‘कोहली के खराब फॉर्म से हम सभी परेशान’

उन्होंने कहा,  इतने बड़े खिलाड़ी (कोहली) को शतक का इंतजार करते देख मुझे दुख होता है। वह हमारे लिए हीरो की तरह हैं। हमने कभी नहीं सोचा था कि हम एक ऐसे खिलाड़ी को देखेंगे, जिसकी तुलना हम राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर या वीरेंद्र सहवाग से कर सकते हैं। लेकिन फिर वे आए, और हमें तुलना करने के लिए मजबूर कर किया और अब वह पिछले दो सालों से रन बनाने से जूझ रहे हैं तो इस बात ने हम सभी को परेशान कर दिया है।

आईपीएल 2022 में भी कोहली के बल्ले खामोश ही रहा। उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू टी20 सीरीज के लिए आराम दिया गया था। एक छोटे से ब्रेक के बाद, कोहली पहले लीसेस्टरशर के खिलाफ चार दिवसीय अभ्यास मैच और फिर 1 जुलाई से इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन में होने वाले इकलौते टेस्ट में खेलते नजर आएंगे। भारत और इंग्लैंड के बीच पिछले साल कोरोना के कारण पांचवां टेस्ट नहीं हो पाया था, जिसे इस साल भारत के इंग्लैंड दौरे के लिए रीशेड्यूल किया गया था।


Share