रजनीकांत से हाथ मिलाएंगे कमल हासन

रजनीकांत से हाथ मिलाएंगे कमल हासन
Share

चैन्नई  (एजेंसी)। साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत के राजनीति में आने के ऐलान के बाद से उनके साथ विभिन्न दलों के जुडऩे के कयास लगातार लगाए जा रहे हैं। अब फिल्मों से राजनीति में आए और मक्कल निधि मैयम (एमएनएम) के अध्यक्ष कमल हासन ने भी रजनीकांत की पार्टी से जुडऩे के सवाल पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

कमल हासन ने रजनीकांत से हाथ मिलाने के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि हम लोगों में बस एक फोन की दूरी है। हासन ने कहा कि यदि हमारी विचारधारा समान है और इससे लोगों को फायदा होता है तो हम अपनी ईगो को छोड़कर एक दूसरे का सहयोग करने के लिए तैयार हैं।  कमल हासन ने मंगलवार को दिवंगत नेता एम जी रामचंद्रन (एमजीआर) के ऐतिहासिक कार्यों को याद किया और कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री का नाता पूरे तमिलनाडु से था।

अन्नाद्रमुक पार्टी का नाम लेने से बचते हुए अभिनेता से नेता बने हासन ने कहा कि जब से उन्होंने हाल के अपने भाषणों में एमजीआर का नाम लिया तो एक पार्टी नाराज हो गई है और उनका दावा है कि एमजीआर केवल उनके हैं। हासन ने यहां एमएनएम की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि दिवंगत नेता एमजीआर तो पूरे तमिलनाडु के हैं, केवल एक पार्टी के नहीं।

उन्होंने कहा कि यही वजह है कि लोग उन्हें ‘मक्कल तिलगम’ (जन नेता) कहते थे, भले ही वह किसी भी पार्टी से जुड़े रहे हों। चाहें वह द्रमुक में रहे हों या बाद में अन्नाद्रमुक से जिसकी उन्होंने स्थापना की थी। हासन ने कहा कि राज्य की समस्त जनता कहती है कि एमजीआर उनके हैं और अगर ऐसा है और यदि सत्तारूढ़ दल उन्हें केवल एक पार्टी का नेता बताता है तो ऐसे रूख के खिलाफ जनता अपना फैसला देगी।

इससे पहले रजनीकांत से जुड़े संगठन ‘रजनी मक्कल मंद्रम’ (आरएमएम) ने अपने सदस्यों से कहा कि वे अभिनेता द्वारा जल्दी ही शुरू होने वाली पार्टी के नाम और चुनाव आयोग द्वारा आवंटित चुनाव चिह्न के बारे में ‘आधिकारिक’ घोषणा की प्रतीक्षा करें।

आरएमएम ने मीडिया के एक हिस्से में आई खबरों का हवाला देते हुए अपने प्रशंसकों और समर्थकों से इंतजार करने की अपील की। खबरों में रजनीकांत द्वारा जल्दी ही शुरू की जाने वाली पार्टी का नाम और चुनाव चिह्न का जिक्र किया गया था।


Share