भारतीय खिलाडिय़ों की चोट का कारण आईपीएल ?

भारतीय खिलाडिय़ों की चोट का कारण आईपीएल ?
Share

ऑस्ट्रेलियाई कोच ने कहा- बड़ी सीरीज से पहले आईपीएल ठीक नहीं रहा, खराब नतीजे दिख रहे

ब्रिस्बेन (एजेंसी)।  ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टेस्ट सीरीज के दौरान 9 भारतीय खिलाड़ी चोटिल हो चुके हैं। इनमें से मोहम्मद शमी और लोकेश राहुल समेत 6 खिलाड़ी सीरीज से बाहर हो चुके हैं। ऐसे में भारतीय टीम काफी मुश्किलों का सामना कर रही है। लगातार चोटिल होते खिलाडिय़ों को लेकर ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर ने पूरा दोष इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) पर ही लगाया है।

उन्होंने कहा कि भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर वनडे, टी-20 और टेस्ट की सीरीज खेलना था। ऐसे में सीरीज से ठीक पहले आईपीएल कराने का फैसला बिल्कुल गलत रहा, जबकि भारतीय टीम करीब 6 महीने लॉकडाउन में आराम करती रही हो।

सितंबर में हुआ था आईपीएल

दरअसल, मार्च 2020 में आईपीएल होना था, जो कोरोना के कारण 19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में कराया गया। लीग करीब 53 दिन चली थी। इसके बाद भारतीय टीम सीधे ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आ गई थी। यहां टीम ने 3-3 वनडे और टी-20 की सीरीज खेली। फिलहाल, दोनों टीमें 4 टेस्ट की सीरीज खेल रही हैं, जो अभी 1-1 की बराबरी पर है। आखिरी टेस्ट 15 जनवरी को ब्रिस्बेन में खेला जाएगा।

2020 आईपीएल के लिए ठीक नहीं था

लैंगर ने एक वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में कहा, यह काफी दिलचस्प है कि हम इस सीजन में कई खिलाडिय़ों को चोटिल होते देख रहे हैं। मैं कोई मदद भी नहीं कर सकता। मेरा मानना है कि इस साल (2020) आईपीएल कराने का किसी के लिए भी सही समय नहीं था। खासकर तब जब टीम को ठीक अगले महीने एक बड़ी सीरीज खेलना हो।Ó

आईपीएल युवाओं के लिए ठीक, लेकिन 13वां सीजन गलत समय पर हुआ

लैंगर ने कहा, मैं आईपीएल को काफी पसंद करता हूं। आईपीएल एक काउंटी क्रिकेट की तरह है, जहां युवा खिलाड़ी जाते हैं और उन्हें अपनी प्रतिभा निखारने और दिखाने में काफी मदद मिलती है। सीमित ओवरों के मैच के लिए यह लीग काफी अच्छी है, लेकिन इसको (13वां सीजन) का समय गलत रहा। क्योंकि कोरोना के कारण दुनियाभर में क्या हो रहा है। यह सभी देख रहे हैं। इसी का नतीजा है कि दोनों टीम के खिलाड़ी लगातार चोटिल हो रहे हैं। मुझे लगता है कि इस पर रिव्यू होना चाहिए।


Share