आईपीएल 15 का फाइनल आज रात 8 बजे से, किधर जाएगी ट्रॉफी,इधर या उधर, राजस्थान- गुजरात

आईपीएल 15 का फाइनल आज रात 8 बजे से, किधर जाएगी ट्रॉफी,इधर या उधर, राजस्थान- गुजरात
Share

अहमदाबाद (एजेंसी)। आईपीएल के रविवार को नरेंद्र मोदी स्टेडियम में गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच होने वाले खिताबी मुकाबले से टूर्नामेंट को नया चैंपियन मिलेगा या फिर राजस्थान 14 साल के लम्बे अंतराल के बाद दूसरी बार विजेता बनेगी।

लीग तालिका में गुजरात पहले और राजस्थान दूसरे स्थान पर रहा था। पहले क्वालीफायर में गुजरात ने तीन गेंद शेष रहते सात विकेट से जीत हासिल की थी। राजस्थान ने दूसरे क्वालीफायर में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू को 11 गेंद शेष रहते सात विकेट से हराकर फाइनल में जगह बनायी जहां एक बार फिर उसके सामने गुजरात की चुनौती होगी। अब देखना यह है कि राजस्थान पिछली हार का बदला निकाल पाता है या फिर लीग में शीर्ष पर रही गुजरात अपने पहले सत्र में राजस्थान की तरह खिताब ले उड़ेगी।

आईपीएल 2018 से फाइनल में भिडऩे वाली टीमों के बीच एक विचित्र सिलसिला चला आ रहा है। पिछले चार सीजनों से विजेता टीम ने पूरे सीजन में उपविजेता टीम का सूपड़ा साफ किया है। इस सीजन में गुजरात टाइटंस ने दो बार राजस्थान रॉयल्स को धूल चटाई है और अगर इतिहास पर गौर करें तो उनका पलड़ा भारी नजर आ रहा है।

राजस्थान की 14 साल बाद अपना 2008 का इतिहास दोहराने की उम्मीदें उसके फॉर्म में चल रहे बल्लेबाज जोस बटलर पर टिकी होंगी जिन्होंने दूसरे क्वालीफायर में बेंगलुरू के खिलाफ मैच विजयी नाबाद शतक बनाया था। बटलर इस सीजन खेले अब तक 16 मुकाबलों में 824 रन बनाकर ऑरेंज कैप होल्डर हैं। इस दौरान उनका 58 का औसत और 151 का स्ट्राइक रेट रहा है। सीजन के मध्य में लडख़ड़ाने के बाद वह एक बार फिर लय में लौट आए हैं। प्लेऑफ के दो मुकाबलों में उन्होंने 89 और 106 नाबाद रनों की पारी खेली हैं और राजस्थान को उनसे ऐसी ही पारी की फिर उम्मीद रहेगी।

बटलर 824 रन बनाकर इस समय ऑरेंज कैप के हकदार हैं। इस सीजन में सर्वाधिक चार शतक जड़कर उन्होंने साफ कर दिया है कि वह अकेले अपने दम पर टीम को जीत दिला सकते हैं। सीजन के बीच में लडख़ड़ाने के बाद उनका बल्ला फिर से बोलने लगा है। गुजरात टाइटंस के विरूद्ध इस सीजन के दोनों मैचों में वह अर्धशतक लगा चुके हैं लेकिन हर बार की तरह इस बार भी उन्हें राशिद खान से बचकर रहना होगा। राशिद बटलर को आईपीएल में तीन और कुल मिलाकर टी20 मैचों में सात बार अपना शिकार बना चुके हैं। राशिद के खिलाफ बटलर की औसत 10 से नीचे गिर जाती है और उनका स्ट्राइक रेट 70 से भी कम का है। इन दोनों की जंग पर आईपीएल 2022 की ट्रॉफी टिकी हुई है।

राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन ने इस सीजन निरंतरता के साथ बल्लेबाजी की है। संजू ने कुल 15 पारियों में 147 के स्ट्राइक रेट से 444 रन बनाए हैं। वह इस सीजन सबसे ज्यादा रन बनाने वाले शीर्ष दस बल्लेबाजों की सूची में भी शामिल हैं। भले ही वह इस सीजन कोई बड़ा स्कोर नहीं बना पाए हैं लेकिन संजू ने कुल दस बार 20 या उससे अधिक का स्कोर बनाया है। उन्होंने विकेटों के पीछे इस सीजन में कुल 16 शिकार किए हैं जो कि इस सीजन बतौर विकेटकीपर सबसे अधिक है।

गुजरात के कप्तान हार्दिक पांड्या ने इस सीजन अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है। उन्होंने 14 पारियों में 45 के औसत से 453 रन बनाए हैं। वह अपनी टीम के लिए इस सीजन सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी हैं। पांड्या ने इस सीजन गेंदबाजी करते हुए पांच विकेट भी अपने नाम किए हैं जिनमें दो विकेट उन्होंने राजस्थान के खिलाफ खेले दो अलग-अलग मैचों में लिए हैं। इसके अलावा उन्होंने राजस्थान के खिलाफ इस सीजन में 40 नाबाद और 87 नाबाद रनों की पारी भी खेली है।

मोहम्मद शमी इस सीजन गुजरात के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। उन्होंने 15 मुक़ाबलों में 19 विकेट अपने नाम किए हैं। वह इस सीजन पावरप्ले के दौरान संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा शिकार करने वाले गेंदबाज हैं। शमी ने पावरप्ले के दौरान 6.57 की इकॉनमी से 11 विकेट अपने नाम किए हैं। वह राजस्थान के खिलफ खेले अपने पिछले चार मुकाबलों में सात बार बल्लेबाजों को पवेलियन भेज चुके हैं। इस सीजन में प्रसिद्ध कृष्णा और राजस्थान रॉयल्स के प्रदर्शन के बीच समानता देखने को मिली है। वह इसलिए कि जब भी प्रसिद्ध मैच में दो या उससे अधिक विकेट झटकते हैं, राजस्थान को हमेशा जीत मिली है। इतना ही नहीं, पांच मैचों में वह खाली हाथ पवेलियन लौटे हैं और उनमें से चार मैचों में राजस्थान को खाली हाथों वापस जाना पड़ा है। मतलब साफ है कि अगर प्रसिद्ध दूसरे क्वालीफायर की तरह फाइनल में धूम मचाते हैं तो गुजरात को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।


Share