गुजरात में बनी भारत की पहली स्टील रोड, 1.90 करोड़ टन स्टील प्लांट कचरे से सूरत में बनी एक किमी लंबी 6 लेन सड़क

India's first steel road built in Gujarat, one kilometer long 6 lane road made in Surat from 19 million tonnes of steel plant waste
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। गुजरात के सूरत शहर में हजीरा औद्योगिक क्षेत्र में एक किलोमीटर लंबी स्टील की रोड बनाई गई है। 6 लेन की इस सड़क को बनाने में स्टील प्लांटों का 1 करोड़ 90 लाख टन कचरे का यूज किया गया है। हजीरा पोर्ट की ये सड़क हैवी वाहनों के आने-जाने से पूरी तरह खराब हो गई थी। स्टील वेस्ट से बनी इस सड़क पर अब हर दिन करीब 1000 से ज्यादा ट्रक 18 से 30 टन का वजन लेकर गुजरते हैं, लेकिन सड़क खराब नहीं हुई है। हमारे देश में हर साल अलग-अलग स्टील प्लांट से कई लाख टन कचरा निकलता है। इस कचरे से पहाड़ जैसा ढेर लग गया है। वेस्ट मैनेजमेंट को लेकर गंभीर हुई केंद्र सरकार इसका यूज देश के विकास कार्यों में कर रही है। लंबे शोध के बाद गुजरात में इस स्टील वेस्ट से सड़क बनाई गई है। यह पायलट प्रोजेक्ट था। अब देश के अलग अलग राज्यों में बनने वाले हाईवे भी स्टील के कचरे से बनाए जाएंगे।

स्टील कचरे से गिट्टी बनाई गई

स्टील की सड़क बनाने में सबसे पहले एक लंबी प्रक्रिया के बाद स्टील के कचरे से गिट्टी बनाई गई और फिर इस गिट्टी का प्रयोग सड़क बनाने में किया गया। एक्सपर्ट का कहना है कि इस प्रयोग के बाद देश में सस्ती और मजबूत सड़कें बनने लगेंगी। साथ ही कचरे के ढेरों से भी मुक्ति मिलेगी। वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) और केंद्रीय सड़क अनुसंधान संस्थान (सीआरआरआई) द्वारा इस्पात और नीति आयोग की मदद से इस प्रोजेक्ट पर काम किया गया है। सीएसआरआई के मुताबिक सड़क की मोटाई भी 30 फीसदी कम कर दी गई है। यह नया तरीका सड़कों को मानसून के मौसम में होने वाले किसी भी नुकसान से बचा सकता है।


Share