लॉन बॉल में भारतीय महिलाओं ने रचा इतिहास, न्यूजीलैंड को हरा फाइनल में पहुंची, सिल्वर पक्का

लॉन बॉल में भारतीय महिलाओं ने रचा इतिहास, न्यूजीलैंड को हरा फाइनल में पहुंची, सिल्वर पक्का
Share

बर्मिंघम (एजेंसी)। राष्ट्रमंडल खेलों में भारत का सातवां पदक सोमवार को पक्का हो गया है। महिला लॉन बॉल टीम ने इतिहास रचते हुए रजत पदक पक्का कर लिया है। उसने सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को 16-13 से हराकर पहली बार खिताबी मुकाबले में जगह बनाई है। भारतीय महिला टीम ने क्वार्टर फाइनल में नॉरफ्लॉक आइसलैंड को हराया था।

लवली चौबे (पहले), पिंकी (दूसरे), नयनमोनी सैकिया (तीसरे) और रूपा रानी टिर्की (स्किप) की भारतीय चौकड़ी ने मैच में शानदार वापसी की। अब फाइनल में उसका मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से होगा। अफ्रीकी टीम ने फिजी को 16-14 से हराकर फाइनल में अपना स्थान पक्का किया है।

भारत ने न्यूजीलैंड को हराकर बड़ा उलटफेर किया है, क्योंकि कीवी टीम के पास इस खेल में 40 पदक हैं। वह दुनिया की शीर्ष पांच लॉन बॉल टीमों में शामिल है। भारतीय चौकड़ी एक समय मैच में 0-5 से पीछे चल रही थी। इसके बावजूद टीम ने वापसी की और 7-6 की बढ़त हासिल कर ली। बाद में यह बढ़त 10-7 की हो गई। यहां से भारतीय टीम ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। उसने लगातार स्कोर किए और न्यूजीलैंड को हरा दिया।

इससे पहले रविवार को दिनेश कुमार और सुनील बहादुर की भारत की लॉन बॉल पुरूष युगल टीम ने अपने सेक्शन सी मैच में इंग्लैंड पर जीत के बाद क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। भारत तीन जीत और एक हार के साथ सेक्शन सी तालिका में दूसरे स्थान पर रहा। पहले मैच में मलयेशिया से हारने के बाद उन्होंने फॉकलैंड आइलैंड्स, कुक आइलैंड्स और इंग्लैंड के खिलाफ जीत हासिल की। इंग्लैंड तीन जीत और एक हार के साथ तालिका में शीर्ष पर रहा।

दूसरी ओर, तानिया चौधरी ने उत्तरी आयरलैंड की शौना ओनील को 21-12 से हराकर लॉन बाल में हार का सिलसिला तोड़ दिया। मैच जीतने के बावजूद वह क्वार्टर फाइनल में नहीं होंगी क्योंकि उन्हें डी होगन (स्कॉटलैंड), आर्थर ऑल्मंड (फॉकलैंड आइलैंड्स) और एल डेनियल (वेल्स) के खिलाफ लगातार तीन हार मिली थी।


Share