घरेलू मैदान पर न्यूजीलैंड को सबक सिखाने उतरेगी भारतीय टीम- पहला टेस्ट मैच आज से – सीधा प्रसारण प्रात: 9.30 बजे से

टीम इंडिया के बाहर होने का असर- 67% आबादी वाले देश के बाहर होने से वल्र्ड कप की व्यूअरशिप आधी होगी
Share

कानपुर (एजेंसी)।  कप्तान विराट कोहली और उप कप्तान रोहित शर्मा सहित कुछ शीर्ष खिलाडिय़ों की अनुपस्थिति में भारतीय टीम गुरूवार से यहां शुरू होने वाले पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में दमदार न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू मैदानों पर अपना दबदबा कायम रखने की कोशिश करेगी।

ऑस्ट्रेलिया से लेनी होगी सीख

भारतीय टीम की अगुवाई अंजिक्य रहाणे करेंगे जो पिछले कुछ समय से खराब फॉर्म में चल रहे हैं। उन्हें चोटिल केएल राहुल और विश्राम पर भेजे गये तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की सेवाएं भी नहीं मिलेगी लेकिन रहाणे के नेतृत्व में टीम ने लगभग ऐसी परिस्थितियों में ही ऑस्ट्रेलिया में जीत दर्ज की थी। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में किए गए उस प्रदर्शन से प्रेरणा लेकर न्यूजीलैंड को कड़ा सबक सिखाने की कोशिश करेगी जिसने इस साल के शुरू में उसकी विश्व टेस्ट चैंपियन बनने की उम्मीदों पर पानी फेरा था।

श्रेयस अय्यर करेंगे डेब्यू

मैच से पहले बुधवार को हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान अजिंक्य रहाणे ने ये साफ कर दिया है कि पहले टेस्ट मैच में श्रेयस अय्यर डेब्यू करेंगे।

रहाणे ने कहा- कानपुर में श्रेयस डेब्यू करने जा रहे हैं। दुर्भाग्य से केएल राहुल चोटिल हैं और वह अगले दो टेस्ट के लिए टीम का हिस्सा नहीं होंगे। इसलिए श्रेयस डेब्यू करेंगे। हालांकि रहाणे ने फिलहाल पहले टेस्ट के लिए प्लेइंग-इलेवन के बाकी खिलाडिय़ों के नामों का खुलासा नहीं किया है। भले ही अजिंक्य रहाणे ने राहुल की जगह अय्यर के डेब्यू की बात कही हो, लेकिन इस बात पर कोई शक नहीं है कि अय्यर नंबर-4 पर विराट कोहली की जगह खेलते नजर आएंगे।

कोहली को कानपुर टेस्ट के लिए आराम दिया गया है। अय्यर ने लिमिटेड ओवर क्रिकेट में भारतीय टीम के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। श्रेयस ने फस्र्ट क्लास क्रिकेट में मुंबई और इंडिया ए के लिए शानदार पारियां खेलकर कई मुकाबले जिताए हैं। वनडे फॉर्मेट में भी उनको नंबर-4 पर ही खेलते देखा जाता है।

बनेंगे 303वें खिलाड़ी : भारतीय टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले श्रेयस अय्यर 303वें खिलाड़ी बनेंगे। 26 वर्षीय अय्यर ने साल 2017 में भारत के लिए अपना पहला वनडे और टी-20 मैच खेला था। अब तक खेले 22 वनडे मैचों में उन्होंने 42.79 की औसत के साथ 813 रन और 31 इंटरनेशनल टी-20 मैचों में 27.62 की औसत के साथ कुल 580 रन बनाए हैं।

बल्लेबाजी को है अनुभव कम

लेकिन इससे नव नियुक्त मुख्य कोच राहुल द्रविड़ को दक्षिण अफ्रीका के दौरे से पहले अपने अन्य खिलाडिय़ों को आजमाने का मौका भी मिलेगा। बल्लेबाजों में केवल रहाणे, चेतेश्वर पुजारा  और मयंक अग्रवाल ने ही 10 से अधिक टेस्ट मैच खेले हैं।

रहाणे को परेशानी

इस मैच में रहाणे पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। उन्होंने पिछले 11 टेस्ट मैचों में 19 की औसत से रन बनाए हैं। घरेलू धरती पर दो मैचों में असफल होने पर उनके लिये अगले महीने साउथ अफ्रीका जाने वाली टीम में जगह बनाना मुश्किल हो जाएगा। अभ्यास के दौरान भी रहाणे आत्मविश्वास में नहीं दिखे। ऐसी परिस्थितियों में उन्हें उस टीम का नेतृत्व करना है जिसमें कई स्टार खिलाड़ी नहीं हैं। ऐसे में एक कप्तान और एक बल्लेबाज की अपनी भूमिका के बीच रहाणे कैसे संतुलन बनाते हैं, इससे उनके करियर की आगे की राह भी तय होगी।

इशांत को भी दिखाना होगा दम

इसी तरह से टीम के सबसे सीनियर गेंदबाज इशांत शर्मा के लिए भी स्थिति अनुकूल नहीं दिख रही है। नेट अभ्यास के दौरान वह लय में नहीं दिखे। यदि मोहम्मद सिराज को अंतिम एकादश से हटाकर इशांत को शामिल किया जाता है तो उन पर टीम प्रबंधन को सही साबित करने का दबाव भी होगा। उमेश यादव का अंतिम एकादश में जगह बनाना तय है।

गिल-अग्रवाल करेंगे पारी की शुरूआत

अगर नेट अभ्यास के अनुसार चलें तो गिल और मयंक पारी का आगाज करेंगे जिसके बाद पुजारा और रहाणे बल्लेबाजी के लिए उतरेंगे। इसके बाद अय्यर अभ्यास के लिए उतरे थे जिन्होंने बायें हाथ के थ्रो डाउन विशेषज्ञ नुवान के सामने वैसी गेंदों का सामना किया जैसी नील वैगनर करते हैं। जयंत यादव ने भी नेट पर पर्याप्त समय बिताया लेकिन यह पता नहीं चला कि ऐसा अक्षर पटेल के कार्यभार को कम करने के लिये किया गया।

अश्विन फिर बनेंगे नंबर वन!

रविचंद्रन अश्विन फिर स्वयं को दुनिया का नंबर एक स्पिनर साबित करने की कोशिश करेंगे। इंग्लैंड के खिलाफ पिछली सीरीज के दौरान नियमित कप्तान कोहली ने उन्हें एक बार भी खेलने का मौका नहीं दिया था। उनका सामना केन विलियमसन जैसे शानदार बल्लेबाज से होगा।

रोस टेलर, टॉम लैथम और हेनरी निकोल्स भी अश्विन और रविंद्र जडेजा की स्पिन जोड़ी का सामना करने की तैयारियों के साथ यहां आए होंगे। अक्षर पटेल तीसरे स्पिनर हो सकते हैं जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला में पदार्पण करते हुए 27 विकेट लिए थे।

न्यूजीलैंड की तरफ से टिम साउदी और

नील वैगनर नयी गेंद का जिम्मा संभालेंगे जबकि स्पिन विभाग में बायें हाथ के स्पिनर अयाज पटेल

और मिशेल सेंटनर के अलावा ऑफ स्पिनर

विलियम सोमरविले को अंतिम एकादश में रखा जा सकता है।

टीम इस प्रकार हैं

भारत : अजिंक्य रहाणे (कप्तान), मयंक अग्रवाल, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, अक्षर पटेल, उमेश यादव, इशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज, जयंत यादव, श्रीकर भरत, प्रसिद्ध कृष्णा में से।

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), टॉम लैथम, रोस टेलर, हेनरी निकोल्स, टॉम ब्लंडेल (विकेटकीपर), विल यंग, ग्लेन फिलिप्स, डेरिल मिशेल, टिम साउदी, नील वैगनर, काइल जैमीसन, विलियम सोमरविले, अयाज पटेल, मिशेल सेंटनर, रचिन रवींद्र में से।


Share