अफगानिस्तान-न्यूजीलैंड मैच की पिच बनाने वाले भारतीय क्यूरेटर मोहन सिंह की मौत, संदिग्ध हालात में शव मिला

अफगानिस्तान-न्यूजीलैंड मैच की पिच बनाने वाले भारतीय क्यूरेटर मोहन सिंह की मौत, संदिग्ध हालात में शव मिला
Share

अबुधाबी (एजेंसी)। अफगानिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच अबुधाबी के शेख जायद स्टेडियम में खेले जा रहे सुपर-12 मैच के दौरान एक बुरी खबर सामने आई। पाकिस्तानी न्यूज चैनल के अनुसार पिच बनाने वाले क्यूरेटर मोहन सिंह की संदिग्ध हालात में लाश पाई गई है। अभी मौत का कारण सामने नहीं आया है, लेकिन मीडिया रिपोर्ट में इसे आत्महत्या बताया जा रहा है। ऐसे में इस मौत को लेकर काफी सवाल भी उठने लगे हैं। इसके कारणों का पता लगाने के लिए प्रशासन ने मामले की जांच शुरू कर दी है। टीम इंडिया के लिए ये मैच काफी अहम था। अब अफगानिस्तान के मैच में हार के साथ ही भारत सेमीफाइनल के दौड़ से बाहर हो गया है।

शेख जायद स्टेडियम का विकेट बनाया था

36 साल के मोहन सिंह भारत के रहने वाले थे। शेख जायद स्टेडियम के विकेट पर ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, भारत, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और वेस्टइंडीज की टीमें खेल चुकी हैं और सभी विकेटों को मोहन सिंह ने ही बनाया है। पंजाब क्रिकेट स्टेडियम मोहाली में क्यूरेटर बनने के प्रशिक्षण के बाद सितंबर 2004 में मोहन अबुधाबी आए, जहां वे 1994 से ग्राउंड सुपरवाइजर के रूप में कार्यरत थे। वहां वो टेनिस सहित कई अन्य खेलों में कोचों की सहायता करते थे। क्रिकेट पर अपना ध्यान केंद्रित करने से पहले उनको तैराकी का शौक था।

2007 वनडे वल्र्ड कप में भी हो चुकी है ऐसी घटना

17 मार्च 2007 को पाक और आयरलैंड के बीच वल्र्डकप मैच खेला गया था। इस मैच में पाकिस्तान टीम को बुरी तरह से हार मिली थी। इसके साथ ही वो विश्व कप से भी बाहर हो गई थी। ये बहुत बड़ा उलटफेर था, लेकिन अगले ही दिन टीम के कोच बॉब वूल्मर की डेड बॉडी बरामद हुई। किंग्स्टन, जमैका में उनके होटल रूम के बाथरूम से उनकी लाश पाई गई थी। उनके शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था। इस मौत के बाद पाकिस्तानी क्रिकेटर्स को खूनी तक कहा गया था।


Share