रोहित के 400वें मैच में क्लीन स्वीप के लिए उतरेगा भारत, पिंक बॉल टेस्ट आज से, दोपहर 2.30 बजे से सीधा प्रसारण

India will go for a clean sweep in Rohit's 400th match, Pink Ball Test from today, live broadcast from 2.30 pm
Share

बेंगलुरू (एजेंसी)। भारत कप्तान रोहित शर्मा के 400वें अंतरराष्ट्रीय मैच में शनिवार को श्रीलंका के खिलाफ क्लीन स्वीप के लिए उतरेगा। बेंगलुरू में इस पिंक बॉल टेस्ट में रोहित बड़ा कीर्तिमान हासिल करेंगे। रोहित का यह भारत के लिए 400वां अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच होगा। रोहित इसी के साथ विराट कोहली, महेंद्र ङ्क्षसह धोनी, सचिन तेंदुलकर और पांच अन्य भारतीयों के एलीट क्लब में शामिल होंगे, जिन्होंने देश के लिए 400 या इससे अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं।

भारतीय कप्तान इस सूची में शामिल होने वाले नौवें भारतीय बनेंगे। 2007 में पदार्पण करने वाले रोहित ने भारत के लिए अब तक 44 टेस्ट, 230 वनडे और 125 टी-20 मैच खेले हैं। यह उनका 45 वां टेस्ट और 400वां अंतर्राष्ट्रीय मैच होगा। भारत ने उनकी कप्तानी में मोहाली में पिछला टेस्ट पारी और 222 रन के अंतर से जीता था। मोहाली टेस्ट विराट कोहली का 100वां टेस्ट भी था।

बेंगलुरू टेस्ट के लिए 100 फीसदी दर्शकों को प्रवेश की अनुमति दे दी गयी है। जून 2018 के बाद बेंगलुरू पहली बार टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा। जनवरी 2020 में अंतिम बार इस मैदान पर अंतर्राष्ट्रीय मैच का आयोजन हुआ था जब ऑस्ट्रेलिया ने एक छोटी वनडे सीरीज के लिए भारत का दौरा किया था। रोहित शर्मा के शतक ने भारत को सीरीज जिताई थी।

कुल मिलाकर यह घर पर भारत का तीसरा ङ्क्षपक-बॉल टेस्ट मैच होगा। नवंबर 2019 में भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता में और फरवरी 2021 में इंग्लैंड के खिलाफ अहमदाबाद में ङ्क्षपक-बॉल टेस्ट मैच खेला है।

भारत ने तीन दिनों के भीतर ही इन दोनों मैचों में जीत दर्ज की थी। अब यह देखना होगा कि मोहाली टेस्ट को तीन दिन के अंदर पारी से जीतने वाली भारतीय टीम इस टेस्ट को भी तीन दिन के अंदर समाप्त करती है या नहीं।

इस बीच दूसरे टेस्ट के लिए अक्षर पटेल की भारतीय टीम में वापसी हुई है। बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर को बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव की जगह टीम में शामिल किया गया है।

मोहाली टेस्ट के लिए अक्षर अनुपलब्ध थे। वह कोविड-19 से लडऩे के साथ-साथ ङ्क्षपडली की चोट से उबर रहे थे। पहले टेस्ट के लिए टीम की घोषणा करते हुए बीसीसीआई की रिलीज में बताया गया था कि अक्षर की फि टनेस का आकलन करने के बाद उनका चयन दूसरे टेस्ट के लिए किया गया है। कुलदीप ने पहला टेस्ट नहीं खेला था, जहां भारतीय टीम तीसरे स्पिनर के तौर पर जयंत यादव के साथ गई। जयंत दोनों पारियों में विकेट नहीं ले पाए थे, जबकि रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा ने 15 विकेट बांटे।

अगर भारत दूसरे टेस्ट में तीसरे स्पिनर के साथ जाता  है तो टीम अक्षर के पांच टेस्ट के रिकॉर्ड को देखते हुए उन्हें सीधा जयंत की जगह एकादश में शामिल कर सकती है। अक्षर ने पांच टेस्ट में 11.86 की औसत से 36 विकेट अपने नाम किए हैं। बेंगलुरू में एसजी की गेंद से डे-नाइट टेस्ट होगा, जिससे अक्षर के चयन की संभावना और बढ़ जाती है। भारत का पिछला डे-नाइट टेस्ट अहमदाबाद में हुआ था, जहां उन्होंने 70 रन देकर 11 विकेट लिए थे, जिससे दो दिन के अंदर इंग्लैंड टेस्ट हारी और वह प्लेयर ऑफ द मैच बने थे।

दूसरे टेस्ट में रवींद्र जडेजा विश्व के नंबर एक टेस्ट ऑलराउंडर के रूप में उतरेंगे।  जडेजा ने गेंद और बल्ले दोनों के साथ मोहाली में जबरदस्त प्रदर्शन किया था। पहली पारी में बल्लेबाजी करते हुए जडेजा ने पहले 175 रनों की धाकड़ पारी खेली और फिर जब गेंदबाजी करने आए तो मैच में कुल 9 विकेट भी झटक लिए।

दूसरे स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का भी मोहाली में बेहतरीन प्रदर्शन रहा था। पहली पारी में अर्धशतक बनाने के अलावा उन्होंने मैच में कुल छह विकेट हासिल किये थे। अश्विन इन छह विकेटों के साथ महान तेज गेंदबाज कपिल देव से आगे निकल गए हैं और सर्वाधिक विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। अश्विन के निशाने पर अब दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज डेल स्टेन का 439 विकेटों का रिकार्ड रहेगा जिसे तोडऩे के लिए उन्हें सिर्फ चार विकेटों की जरूरत है।


Share