प्रदेश में 83% को पहला और 49% को दोनों डोज लगे- राजस्थान का कोरोना टीकाकरण के मामले में राष्ट्रीय औसत

राज्यों को मुफ्त वैक्सीन देने के ऐलान के अगले ही दिन-44 करोड़ डोज का ऑर्डर दिया, 30% रकम भी जारी
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राज्य के चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा है कि राजस्थान कोरोना टीकाकरण के मामले में राष्ट्रीय औसत से बेहतर प्रदर्शन कर रहा है।

डॉ. शर्मा गुरूवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीय द्वारा ली जा रही वैक्सीनेशन अभियान की समीक्षा बैठक में हिस्सा ले रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 83 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन का प्रथम डोज और 48.9 प्रतिशत  को दूसरा डोज लगाया जा चुका है। उन्होंने कहा कि कम टीकाकरण वाले जिलों के  लिए विशेष कार्ययोजना बनाकर एवं वैक्सीनेशन कैंप की संख्या बढ़ाकर शत-प्रतिशत  वैक्सीनेशन का प्रयास किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि कोरोना प्रबंधन से लेकर वैक्सीनेशन हर मामले में राजस्थान अव्वल रहा है। प्रदेश में चल रहे प्रशासन शहरों एवं गांवों के संग अभियान में चिकित्सा विभाग द्वारा व्यापक स्तर पर वैक्सीनेशन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 14 नवम्बर से शुरू होने वाले चिरंजीवी स्वास्थ्य शिविरों में 12 हजार शिविरों के जरिए कोरोना वैक्सीन से वंचित लोगों का व्यापक स्तर पर टीकाकरण किया जाएगा।

डॉ. शर्मा ने बताया कि तीन नवम्बर से संचालित ‘हर घर दस्तक’ अभियान के तहत घर-घर जाकर सर्वे कर प्रथम एवं द्वितीय डोज से वंचित कोविड वैक्सीनेशन के लाभार्थियों की पहचान कर कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत प्रदेश में तीन हजार से ज्यादा गांवों में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन किया जा चुका है, जबकि 22 हजार गांवों में चिकित्सा विभाग की टीमें जाकर आमजन का वैक्सीनेशन कर रही है।

उन्होंने बताया कि 10 नवंबर तक प्रदेश की लक्षित आबादी की तुलना में 6 करोड़ 36 लाख से ज्यादा आबादी को पहली और 2 करोड़, 8 लाख, 78 हजार से ज्यादा लोगों को वैक्सीनेशन की दोनों डोज लगाई जा चुकी है। उन्होंने बताया कि 18 वर्ष की आयु से अधिक आयु के 87.34 लाख लाभार्थियों को जल्द ही प्रथम और लगभग 1.03 करोड़ लाभार्थियों को दूसरी डोज लगाई जाएगी।


Share