अमेरिका से इमरान खान को झटका, जॉन केरी भारत आएंगे लेकिन पाकिस्तान को किया मना

पाकिस्तान हटाएगा भारत से कपास और चीनी के आयात पर लगा प्रतिबंध
Share

जलवायु परिवर्तन पर अमेरिका के विशेष दूत भारत और बांग्लादेश का दौरा करेंगे। हालांकि, वे पाकिस्तान नहीं जाएंगे, जो सबसे खराब संकट का सामना कर रहे देशों में से एक है।

पाकिस्तान की चीन से निकटता एक बार फिर महंगी पड़ गई है। चीन से निकटता ने पाकिस्तान को अमेरिका से अलग कर दिया है। यही वजह है कि नए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने पाकिस्तान को बड़ा झटका दिया है। जलवायु परिवर्तन पर अमेरिका के विशेष दूत भारत और बांग्लादेश का दौरा करेंगे। हालांकि, वे पाकिस्तान नहीं जाएंगे, जो सबसे खराब संकट का सामना कर रहे देशों में से एक है। जलवायु संकट पर चर्चा के लिए जॉन केरी 1 से 9 अप्रैल तक बांग्लादेश, भारत और यूएई का दौरा करेंगे। हालांकि, अमेरिका ने पाकिस्तान जाने से इनकार कर दिया है।

पाकिस्तान के लिए ये अपमानजनक

इमरान खान को क्लाइमेट चेंज समिट में आमंत्रित करने में पाकिस्तान की विफलता ने एक बार फिर दुनिया का अपमान किया है। पाकिस्तानी अखबार डॉन ने इसे पाकिस्तान के लिए बड़ा झटका बताया।  एक अमेरिकी विशेषज्ञ माइक कुलमैन ने बताया कि अमेरिका के व्हाइट हाउस में हुए वैश्विक जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन में भी पाकिस्तान को आमंत्रित नहीं किया गया था। अमेरिकी मौसम दूत जॉन केरी वार्ता के लिए भारत और बांग्लादेश आ रहे हैं।

जॉन केरी ने दिखाई भारत को लेकर उत्साहिता

केरी ने ट्वीट कर बताया कि वो यूएई, भारत और बांग्लादेश के साथ चर्चा करने के लिए बेहद उत्साहित है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन ने हाल ही में हुए सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित दुनिया भर के 40 नेताओं को आमंत्रित किया हैं। शिखर सम्मेलन जलवायु परिवर्तन, साथ ही अन्य उपायों का मुकाबला करने के लिए ठोस कदमों पर चर्चा करेगा।


Share