इमरान खान पर लगा सीनेट सीट के बदले 17 करोड़ लेने का आरोप

पाक में विपक्षी पार्टियों ने इमरान खान और सेना के खिलाफ किया गठबंधन
Share

इमरान खान पर लगा सीनेट सीट के बदले 17 करोड़ लेने का आरोप- पाकिस्तान के वरिष्ठ विपक्षी नेता और पूर्व प्रधानमंत्री रह चुके शाहिद खाकान अब्बासी ने  मौजूदा पीएम इमरान खान पर सीनेट सीट को 700 मिलियन करीब 17 करोड़ रु में बेचने का आरोप लगाया है। अब्बासी ने बताया कि मोहम्मद अब्दुल कादिर ने  एक स्वतंत्र उम्मीदवार के तौर पर 3 मार्च को  सीनेट चुनाव लड़ा था। तथा उन्हें पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ और अन्य दलों से वोट मिले थे। सांसदों ने  इमरान के निर्देश पर कादिर को वोट दिया।

अब्बासी ने कहा कि इमरान  को इसका हर्जाना भुगतना होगा उनको इस पर सफायी देनी होगी। अकेला मैं ही नहीं सत्तारूढ़ पार्टी के सदस्य भी यही कह रहे हैं कि खान को पैसे देने के बाद ही इस व्यक्ति को सीनेटर बनाया गया था।

चुनाव आयोग से निवेदन करते हुए अब्बासी ने कहा कि वह सीनेट सीट की बिक्री के लिए प्रधानमंत्री इमरान को नोटिस भेज कर जवाब मांगे।

दिलचस्प बात यह है कि कादिर के स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में सीट जीतने के बाद, ख़ान ने पार्टी के बलूचिस्तान नेतृत्व और ज़ोनल प्रमुखों के कड़े विरोध के बावजूद पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ में उनका स्वागत किया, जिन्होंने पहले केंद्रीय नेतृत्व को उन्हें दी गई पार्टी को वापस लेने के लिए मजबूर किया था।

सैन्य प्रतिष्ठान राजनीति से दूर रहें: अब्बासी

हम जानना चाहते हैं कि DG ISPR ने ही कहा था कि सेना की राजनीति में कोई भागीदारी नहीं है।  ऐसा ही होना चाहिए। लेकिन सीनेट के चुनावों और पीएम इमरान खान के विश्वास मत में क्या हुआ था, इसने महानिदेशक ISPR के उस बयान को नकार दिया।

हाल ही में, ISPR के महानिदेशक मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने साफ तौर पर इनकार किया कि सेना राजनीति में शामिल थी।


Share