सांसद को सच बोलने की सजा देगी इमरान सरकार

सांसद को सच बोलने की सजा देगी इमरान सरकार
Share

इस्लामाबाद (एजेंसी)। एयर फोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की रिहाई मामले पाकिस्तान और उसके सेना प्रमुख की पोल खोलने वाले नेशनल असेंबली के पूर्व स्पीकर अयाज सादिक को जल्द ही इमरान खान और सेना के जुल्मों का सामना करना पड़ेगा। उन्हें सच बोलने की सजा भुगतनी होगी। इमरान खान की सरकार में सूचना मंत्री शिबली फराज ने बकायदा धमकी देना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा है कि उन्होंने जो गलती की है उसके लिए माफी नहीं दी जा सकती है और इसकी सजा दी जाएगी। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के दुस्साहस का जवाब देते हुए भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराया था। हालांकि, ‘डॉग फाइटÓ में विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने की वजह से उन्होंने सफलतापूर्वक इजेक्ट किया और उन्होंने पीओके में लैंड किया था। पाकिस्तान ने भारत के दबाव और प्रतिक्रिया से डरकर अभिनंदन को रिहा करने का फैसला किया था। पाकिस्तान के सांसद अयाज सादिक ने भी इसकी पुष्टि की है।

सांसद अयाज सादिक ने कहा कि भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन को लेकर बुलाई गई बैठक में खुद प्र.म. इमरान खान ने आने से इनकार कर दिया था। उसमें पाक आर्मी चीफ आए तो मगर उनके पैर कांप रहे थे और चेहरे पर पसीना था, कहीं भारत अटैक न कर दे। उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि अगर अभिनंदन को सीमा पार नहीं जाने देंगे तो भारत रात 9 बजे पाकिस्तान पर हमला कर देगा। अक्सर परमाणु हमले की गीदड़ भभकी देने वाले पाकिस्तान की पोल खुली तो अब उसे चेहरा छिपाने की जगह नहीं मिल रही है। यही वजह है कि अब इमरान सरकार अयाज सादिक से बदला लेने पर तुल गई है। इमरान के मंत्री शिबली फराज ने ट्वीट किया, अयाज सादिक ने जो कहा वह माफी योग्य नहीं है। अब कानून अपना काम करेगा। फराज ने जोर देकर कहा, राज्य को कमजोर करना अक्षम्य अपराध है और सादिक और उनके समर्थकों को इसकी सजा दी जाएगी। पाकिस्तानी न्यूज चैनल दुनिया टीवी के मुताबिक, पीएमएल-एन नेता अयाज सादिक के खिलाफ लाहौर के सिविल लाइन्स पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कर ली गई है। पुलिस ने आवेदन को लीगल डिपार्टमेंट में सलाह के लिए भेजा है।


Share