तेल कंपनियों ने बढ़ाई रेट तो पड़ोसी राज्यों से बसों में सस्ता डीजल भरवाएगा रोडवेज प्रशासन, डिपो को खुले बाजार से डीजल खरीदने के आदेश, सरकार को होगा राजस्व का नुकसान

If oil companies increase the rate, then roadways administration will get cheaper diesel in buses from neighboring states, orders for depots to buy diesel from open market, government will lose revenue
Share

श्रीगंगानगर (कार्यालय संवाददाता)।  राजस्थान रोडवेज की बसों में अब पड़ोसी राज्यों से डीजल भरवाया जाएगा। तेल कंपनियों इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) की ओर से दर बढ़ाने के कारण यह निर्णय किया गया है। दरअसल, रोडवेज पूरे प्रदेश में बल्क में डीजल खरीदता है। तेल कंपनियां एचपीसीएल और आईओसीएल कुछ दिन पहले तक 89.56 रूपए प्रति लीटर में डीजल उपलब्ध करवा रही थी। पिछले दिनों इसे बढ़ाकर 104 रूपए के आसपास कर दिया। ऐसे में बाजार भाव से भी ज्यादा कीमत में डीजल रोडवेज बसों को मिलने लगा। इसी को देखते हुए रोडवेज ने अब खुले बाजार से डीजल खरीदने के आदेश सभी डिपो को दिए हैं। ऐसे में रोडवेज को तो सस्ता डीजल मिलेगा, लेकिन पड़ोसी राज्यों से डीजल खरीदने से सरकार को रेवेन्यू का नुकसान होगा।

करनी होगी लोकल पेट्रोल पंप संचालक से बात

रोडवेज प्रत्येक डिपो में लोकल पेट्रोलियम डीलर से बात करेगा। वहां से पचास पैसे प्रति लीटर की छूट ली जाएगी। डीजल सही भरा जा रहा है, इसका ध्यान रखने के लिए रोडवेज का एक कर्मचारी संबंधित डिपो पर रहेगा। वह एक रजिस्टर मेंटेन करेगा। संबंधित फर्म के बिल और रजिस्टर का मिलान होने पर भुगतान किया जाएगा।

इंटर स्टेट बसें भरवाएंगी अन्य राज्यों से डीजल

इसके साथ ही राजस्थान से इंटर स्टेट चलने वाली बसों में पड़ोसी राज्यों में सस्ता डीजल होने पर वहां से ही डीजल भरवाने के निर्देश दिए गए हैं। संबंधित राज्य की सीमा से सटा राजस्थान का डिपो ही इसके लिए पड़ोसी राज्य के पेट्रोलियम डीलर से बात करेगा। वहां से ही ये बसें डीजल भरवाएंगी।

इन डिपो से जाती हैं इंटर स्टेट बसें

राजस्थान का कोटपूतली डिपो हरियाणा, भरतपुर डिपो यूपी, डूंगरपुर डिपो गुजरात, झालावाड़ डिपो मध्यप्रदेश और श्रीगंगानगर डिपो पंजाब से सटा है। इन सभी डिपो को इंटर स्टेट बसों में पड़ोसी राज्यों से डीजल भरवाने के लिए कहा गया है। केवल श्रीगंगानगर की बात करें तो यहां डीजल शनिवार को 95.26 रूपए प्रति लीटर था। पंजाब में शनिवार को ही यह 84.53 रूपए प्रति लीटर बिका। यानी करीब ग्यारह रूपए का अंतर होने से अब श्रीगंगानगर से चलने वाली इंटर स्टेट बसें भी पंजाब से ही डीजल खरीदेंगी।

अब होगी खुले बाजार से खरीद

राजस्थान स्टेट रोडवेज एम्पलॉइज यूनियन (एटक) के पब्लिक रिलेशन सेक्रेटरी नारायण सिंह बताते हैं कि रोडवेज को सप्लाई होने वाले डीजल के दाम बढऩे से अब निगम खुले बाजार से डीजल खरीदेगा। इसमें पचास पैसे प्रति लीटर की छूट तो मिलेगी, लेकिन हर दिन लाखों लीटर डीजल खरीद के बावजूद रोडवेज को बल्क में खरीद का कोई लाभ नहीं मिलेगा। खुले बाजार से डीजल खरीदने के लिए रोडवेज के परचेज स्टोर के जीएम खेमसिंह ने आदेश जारी किए हैं।

श्रीगंगानगर डिपो के चीफ मैनेजर अवधेश कुमार बताते हैं कि जीएम परचेज स्टोर के आदेश हमें मिले हैं। इसके आधार 18 मार्च को रात बारह बजे से श्रीगंगानगर में भी रोडवेज बसों में खुले बाजार से डीजल भरवाना शुरू कर दिया है।

डेटा फाइल

  • हर दिन प्रदेश में रोडवेज बसें चलती हैं- 13 लाख किलोमीटर
  • रोडवेज बसों का पर लीटर एवरेज- 5.15 किलोमीटर प्रति लीटर
  • रोडवेज बसों में हर दिन डीजल खपत- 2 लाख 53 हजार लीटर
  • श्रीगंगानगर में डीजल के बाजार भाव-95.26 रूपए प्रति लीटर
  • रोडवेज डिपो को सप्लाई हो रहा डीजल-104 रूपए प्रति लीटर
  • पंजाब में डीजल के भाव- 84.53 रूपए प्रति लीटर

Share