कैसे करेंगे पुजारा को बाहर & 2021 में खराब रहा फार्म उसके बावजूद….सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में टॉप 5 में शामिल, 30 से कम औसत फिर भी टॉप 5 में & पिछले 100 साल में ऐसा करने वाले सिर्फ दूसरे बल्लेबाज

Pujara scored 500 runs with the help of 50 boundaries, made the team number-1, average close to 100
Share

जोहानिसबर्ग (एजेंसी)।  करियर की शुरूआत बेहतरीन अंदाज में करने वाले चेतेश्वर पुजारा की जगह अब भारतीय टीम में खतरे में पड़ती दिखाई पड़ रही है। लोग सोशल मीडिया पर उन्हें टीम से बाहर करने की मांग कर रहे हैं। पिछले काफी समय से पुजारा ने कोई शतक नहीं लगाया है। साल 2021 में भी उनके बल्ले से सूखा जारी रहा। इसके बावजूद वह पिछले साल दुनिया के टॉप-पांच सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में शामिल रहे।

पुजारा : 2021 में 702 रन

साल 2021 में पुजारा ने 14 टेस्ट में 28.08 की औसत से 702 रन बनाए। उन्होंने छह अर्धशतक जरूर लगाए, लेकिन स्ट्राइक रेट 34.17 का रहा। धीमी पारियों के लिए भी उन्हें कई बार आलोचनाओं का सामना करना पड़ा। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पिछले टेस्ट में पुजारा ने पहली पारी में शून्य और दूसरी पारी में 16 रन बनाए थे। वहीं, जोहानिसबर्ग में दूसरे टेस्ट में सिर्फ तीन रन बना सके।

रूट ने 2021 में सबसे ज्यादा रन बनाए

702 रन के साथ पुजारा साल के सबसे ज्यादा रन बनाने वालों में पांचवें नंबर पर रहे। इस लिस्ट में टॉप पर 1708 रन के साथ इंग्लैंड के जो रूट हैं। वहीं, दूसरे नंबर पर 906 रन के साथ रोहित शर्मा हैं। तीसरे नंबर पर 902 रन के साथ श्रीलंका के दिमुथ करूणारत्ने और चौथे नंबर पर 748 रन के साथ ऋषभ पंत रहे।

हार्वे ने 1956 में किया था ऐसा

पिछले 100 साल में ऐसा दूसरी बार ही हुआ है जब खिलाड़ी ने 30 से कम की औसत से रन बनाए हो और टॉप-5 में जगह बनाने में कामयाब रहा हो। पुजारा से पहले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज नील हार्वे ने 1956 में ऐसा किया था। 1956 में हार्वे ने 28.50 की औसत से 456 रन बनाए थे। इसके बावजूद वह उस साल सबसे ज्यादा रन बनाने वालों में चौथे नंबर पर रहे थे।

टीम में जगह खतरे में पड़ी

पुजारा जब टीम में आए थे, तब उन्हें टीम इंडिया के मौजूदा हेड कोच और द वॉल कहे जाने वाले राहुल द्रविड़ का रिप्लेसमेंट माना जाता था। हालांकि, कई बार फैंस ने इसका विरोध किया और कहा कि यह सही नहीं है और इतनी जल्दी किसी को किसी से तुलना नहीं की जानी चाहिए। पुजारा को टीम में अपनी जगह बचाने के लिए जल्द ही कोई बड़ी पारी खेलनी हो ।


Share